आसमान छू रहे हैं प्याज के दाम

मुंबई
प्याज के आसमान छूते भाव की वजह से रसोई के साथ ही साथ होटलों की थाली से प्याज गायब हो गई है। मुंबई शहर के खुदरा बाजार में प्याज का भाव 70 से 80 रुपए प्रति  किलो तक जा पहुंचा है। इसलिए बड़े होटलों में तो ग्राहकों को प्याज मिल जाता है पर मध्यम और निक्न श्रेणी के होटलों के लिए ग्राहकों को प्याज परोसना पूरी तरह असंभव हो   चुका है। बोरीवली पूर्व के रहिवासी राजेंद्र नगरकर ने बताया कि उनके घर के नजदीक के होटल ने खाने में मुफ्त प्याज देने से मना कर दिया। वहीं गोरेगांव पूर्व में स्वास्तिक फास्ट  फूड एवं शाकाहारी भोजनालय चलाने वाले उमेश यादव ने बताया कि वे दिल पर पत्थर रखकर अपने ग्राहकों को प्याज का एक छोटा कतरा दे रहे है, लेकिन दुबारा के लिए बिलकुल   मना कर देते हैं। कांदा भजिया बनाना बिलकुल बंद कर दिया है और पार्सल में प्याज नहीं दे रहे हैं। कांदिवली पश्चिम स्थित सरोवर होटल के मैनेजर शेखर शंकर ने कहा कि वे  अपने ग्राहकों को प्याज देने के लिए मजबूर हैं, क्योंकि न देने पर होटल की इमेज पर प्रभाव पड़ता है। अगर यह स्थिति ज्यादा समय तक बनी रही तो शायद होटलों में खाने की  चीजों के दाम थोड़े बहुत बढ़ जाएं। मालाड पश्चिम के अदिती फास्ट फूड एंड रेस्टोरेंट के श्यामप्रसाद लिंगायत ने बताया कि इस अचानक मंहगाई के कारण उच्च स्तरीय होटलों में  खाद्य पदार्थों के बजट में लगभग 22 से 25 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है। लिंगायत ने कहा कि प्याज के अलावा हरी धनिया के दामों का बढ़ जाना भी काफी तकलीफदेह है। हरी  चटनी में हरी धनिया, पालक और पुदीना का एक निश्चित अनुपात रहता है। इसमें अंतर होने पर चटनी का स्वाद पूरी तरह बिगड़ जाता है। चिंचपोकली पश्चिम स्थित महालसा  होटल के सचिन पाण्डेय ने कहा कि अभी तो ग्राहकों को काफी कम मात्रा में प्याज दे रहे हैं, लेकिन ऐसा ही रहा तो आगे चलकर प्याज देना बंद कर सकते हैं। होटल एंड रेस्टोरेंट  असोशिएशन ऑफ इंडिया, वेस्टर्न जोन के उपाध्यक्ष प्रदीप शेट्टी के अनुसार होटल या रेस्टोरेंट का संचालन करने वालों को इस तरह की अनपेक्षित चुनौतियों के लिए हमेशा तैयार  रहना चाहिए। ज्यादातर भारतीय व्यंजनों में प्याज डाला जाता है। ग्राहकों को प्लेट में दिए जाने वाले प्याज को कम करने से होटलों के घाटे में थोड़ी कमी की जा सकती है। अगर  यह स्थिति ज्यादा समय तक रही तो मुश्किल बढ़ जाएगी।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget