देवेंद्र फड़नवीस और अजित पवार ने दिया इस्तीफा

इससे पहले 23 नवंबर की सुबह भाजपा के देवेंद्र फड़नवीस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेकर पूरे देश को चौंका दिया था। साथ में अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद की  शपथ ली थी। इसके बाद तीनों दल सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए थें। सोमवार को इस मामले में सुनवाई हुई और फैसला मंगलवार की सुबह 10:30 बजे तक के लिए सुरक्षित रख लिया  गया था। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को अपने फैसले में कहा कि बुधवार की शाम 5 बजे तक सदन में देवेंद्र फड़नवीस बहुमत साबित करें। साथ ही यह भी निर्देष दिया कि बहुमत  साबित करने के लिए गुप्त मतदान नहीं होंगे और इसका लाइव प्रसारण किया जाएगा। इस फैसले के बाद सदन में बहुमत साबित करने की तैयारी शुरू हो गई। भाजपा की ओर से  कहा गया कि हम सदन में बहुमत साबित कर देंगे। एनसीपी की ओर से अजित पवार को लगातार मनाने की कोशिश होती रही। इसी बीच अजित पवार ने अपने पद से इस्तीफा  देकर सबको को चौंका दिया। अजित पवार के इस्तीफे के बाद देवेंद्र फड़नवीस की तरफ से प्रेस कांफ्रेंस किए जाने की सूचना आई।
प्रेस कांफ्रेंस में देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि भाजपा-शिवसेना गठबंधन को जनता ने जनादेश दिया था, लेकिन शिवसेना कांग्रेस-एनसीपी के साथ बात करने लगी। यह कहा गया कि  ढाई-ढाई साल के लिए सीएम पद की बात हुई थी, जबकि ऐसा कुछ भी नहीं था। देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि हमारे पास बहुमत नहीं है और इसके साथ ही अपने इस्तीफे की घोषणा  कर दी।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget