उद्धव ठकरे बने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री

साथ में छह मंत्रियों ने ली पद एवं गोपनीयता की शपथ


Uddhav Thakare
मुंबई
शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे ने गुरुवार शाम 6:40 बजे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलवाई।  उनके बाद उद्घव मंत्रिमंडल छह मंत्रियों को भी पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। उद्धव ठाकरे ने कहा कि मैं छत्रपति शिवाजी महाराज और अपने माता- पिता का स्मरण कर  शपथ शुरू करता हूं। उद्धव ठाकरे शपथ लेने के बाद जमीन पर बैठ गए और झुककर सबका अभिवादन किया। उद्धव ठाकरे शपथ के तुरंत बाद परिवार के साथ सिद्धि विनायक मंदिर  दर्शन करने के लिए गए। शपथ ग्रहण समारोह में शिवाजी पार्क में करीब 70 हजार समर्थकों के अलावा कई बड़े नेता एवं बिजनेसमैन भी उपस्थित रहे।

इन विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली
शिवसेना : विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे, सुभाष देसाई।
राकांपा : विधायक दल के नेता जयंत पाटिल, छगन भुजबल।
कांग्रेस : विधायक दल के नेता बालासाहेब थोरात एवं नितिन राऊत

चर्चा थी कि अजित पवार भी शपथ लेंगे, लेकिन समारोह से पहले उन्होंने खुद ही इस बात को नकार दिया। अजित ने कहा, ''मैं शपथ नहीं ले रहा हूं। उप मुख्यमंत्री पर अभी फैसला  नहीं हुआ है। राकांपा के भीतर इस पर फैसला होना अभी बाकी है।'' उद्धव ठाकरे के शपथ में छह पूर्व मुख्यमंत्री पहुंचे उद्धव के शपथ ग्रहण में राकांपा अध्यक्ष शरद पवार, शिवसेना  नेता मनोहर जोशी, कांग्रेस नेता सुशील कुमार शिंदे, अशोक चह्वाण और पृथ्वीराज चौहान पहुंचे। इनके अलावा देवेंद्र फड़नवीस भी समारोह में मौजूद थे। ये 6 नेता महाराष्ट्र के  मुख्यमंत्री रह चुके हैं।

उद्धव ठाकरे ने भगवा कुर्ते में ली शपथ
महाविकास आघाड़ी के नेता उद्धव ठाकरे ने भगवा कुर्ते में शपथ ग्रहण किया। उनके माथे पर लाल रंग का तिलक लगा हुआ था, जबकि राकांपा- शिवसेना-कांग्रेस का यह गठबंधन  सेकुलर है। उद्धव सहित सभी मंत्रियों ने मराठी में शपथ ली। इससे पहले उन्होंने छत्रपति शिवाजी की मूर्ति को प्रणाम किया। शिवाजी पार्क में ही हुआ था एलान-शिवसैनिक बनेगा  मुख्यमंत्री ठाकरे परिवार के लिए मुंबई का शिवाजी पार्क हमेशा से खास रहा है। यही वो मैदान है, जहां शिवसेना हर साल दशहरे के दिन रैली करती है। इसी दिन बाला साहेब ठाकरे  इसी मैदान से शिवसैनिकों को संबोधित करते थे। उनके निधन के बाद उद्धव ठाकरे ने इस परंपरा को जारी रखा। इसी मैदान में बाला साहब का अंतिम संस्कार हुआ। छत्रपति  शिवाजी महाराज की बड़ी प्रतिमा के पास ही बाल ठाकरे का स्मारक बना हुआ है। इसी साल दशहरा रैली के मौके पर एलान किया गया था कि महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री  शिवसेना का होगा।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget