नीतीश ने एक बार फिर मांगा मौका

पश्चिम चंपारण
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के चार जिलों की यात्रा पर निकले हैं। इसी क्रम में वे शुक्रवार को पश्चिमी चंपारण पहुंचे। यहां बेतिया के मैनाटांड़ में सीएम ने 300 करोड़ की कई योजनाओं का  शिलान्यास और उद्घाटन किया। इस दौरान मैनाटांड में उन्होंने एक जनसभाको संबोधित किया और अगली बार फिर मौका देने का आग्रह किया। अपने भाषण में उन्होंने बिगड़ते जलवायु और  पर्यावरण को लेकर चिंता जाहिर की वहीं, इशारों-इशारों में भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल के उस खत का जवाब भी देने की कोशिश की, जिसमें उन्होंने सड़क निर्माण में राशि गबन का आरोप  लगाया है।

भाजपा अध्यक्ष को सीएम नीतीश का जवाब!

सीएम नीतीश ने भ्रष्टाचार को लेकर भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल के उठाए सवाल का इशारों में जवाब देते हुए कहा कि पहले काम नहीं होता  था तो लोगों की मानसिकता भी वही होती थी।  लेकिन, अब जब काम तेजी से हो रहे हैं, तो लोगों की उम्मीदें भी बढ़ जाती है। बता दें कि बिहार भाजपा के अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने ग्रामीण कार्य की एक योजना में 95 लाख रुपए के  गबन का आरोप लगाया है। पराली न जलाने  की अपील जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश ने एक बार फिर जलवायु परिवर्तन पर चिंता जाहिर की और लोगों से परली नहीं जलाने  का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि ऐसा न करें नहीं, तो पर्यावरण का काफी नुकसान करेंगे।
मीडिया पर  सीएम का तंज इस दौरान उन्होंने मीडिया पर अपना क्षोभ व्यक्त करते हुए कहा कि मौसम में बदलाव की समस्या देश भर में हो रही है। अमृतसर में भी ये समस्या दिखी जब  बरसात से सड़क पर पानी भर गया था। लेकिन मीडिया ने ये नहीं दिखाया। जबकि बिहार में कुछ होता है मीडिया ख़ूब दिखाता है। वादा निभाने का दावा सीएम नीतीश ने अपने दौरे के बारे में कहा कि लोक सभा चुनाव के प्रचार के दौरान मैंने सभा में कहा थाकी सिकटा आऊंगा। उस दौरान लोगों ने विकास की कुछ मांग की थी उसी मांग को पूरा करने आज सिकटा आया हूं। सीकटा के  लिए कई विकास योजनाओं की शुरुआत की जा रही है कुछ के लिए भू अर्जन की समस्या भी हुई, लेकिन वो दूर कर लिया जाएगा।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget