राज्यपाल ने दिया शिवसेना को न्यौता

सरकार बनाने के लिए सोमवार शाम साढ़े सात बजे तक दिया समय

Shivsena
मुंबई
राज्य में सरकार बनाने को लेकर भाजपा द्वारा असमर्थता जताए जाने के बाद रविवार को राज्य के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने दूसरी बड़ी पार्टी शिवसेना को सरकार बनाने के  लिए आमंत्रित किया है, जिसमें राज्यपाल ने कहा है कि 11 नवंबर, सोमवार शाम 7.30 बजे तक सरकार बनाने के बारे में शिवसेना बताएं। रविवार को राज्यपाल की तरफ से   शिवसेना को सरकार बनाने के लिए पत्र भेजा गया है। राज्य में विधानसभा चुनाव के बाद सरकार बनाने को लेकर कवायद शुरू हो गया है। इसी के तहत शनिवार को राज्यपाल  भगत सिंह कोश्यारी ने राज्य की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा को सरकार बनाने के लिए न्यौता भेजा था। इसके बाद रविवार को भाजपा प्रदेश की दो बार हुई कोर कमेटी में फैसला लिया  गया कि पर्याप्त संख्या बल न होने के कारण वो सरकार नहीं बनाएंगे।
राज्य के कार्यवाहक मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस के नेतृत्व में प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल, सुधीर मुनगंटीवार और विनोद तावड़े राज भवन जाकर राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार  बनाने में अपनी असमर्थता जताई। उसके कुछ घंटो बाद राज्यपाल ने राज्य की दूसरी बड़ी पार्टी शिवसेना को सरकार बनाने के लिए न्यौता भेजा है। वहीं शिवसेना को राज्यपाल से  सरकार बनाने के लिए मिले न्यौता से पार्टी के भीतर खलबली मच गई है। शिवसेना के नेताओं के बीच बहुमत जुटाने के लिए चर्चा शुरू हो गई है।

संजय राउत आज दिल्ली जाकर  सोनिया गांधी से कर सकते हैं मुलाकात
सूत्रों के मुताबिक राज्य में सरकार बनाने के लिए तेज हुई हलचल के बीच समर्थन को लेकर रविवार की रात शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत दिल्ली जाकर कांग्रेस की अध्यक्षा सोनिया  गांधी से मुलाकात कर सकते हैं।

उद्धव ठाकरे का दावा, शिवसेना का बनेगा मुख्यमंत्री
राज्य में शिवसेना की सरकार बनेगी और मुख्यमंत्री के पालखी में शिवसैनिक बैठेगा। रविवार को मालाड स्थित रिट्रीट होटल में ठहरे शिवसेना विधायकों की बैठक में शिवसेना पक्ष  प्रमुख उध्दव ठाकरे ने यह बात कही। इस दौरान विधायकों ने ठाकरे से पूछा की ऐसी चर्चा है कि पक्ष प्रमुख राज्य में कांग्रेस- राकांपा के समर्थन से शिवसेना की सरकार बनाने के  प्रयास में जुटे हैं। इसके जबाब में विधायकों को आश्वस्त करते हुए उध्दव ठाकरे ने कहा कि राज्य में शिवसेना की सरकार बनेगी। होटल रिट्रीट में चर्चा के दौरान विधायकों ने  युवासेना प्रमुख आदित्य ठाकरे की जगह उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनने का प्रस्ताव पेश किया, जिसे पर उध्दव ठाकरे ने कहा कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री शिवसैनिक ही होगा।  बता दें कि इसके पहले शनिवार की शाम को युवासेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने होटल जाकर विधायकों से मुलाकात कर सरकार बनाने पर चर्चा कर चुके हैं।
वहीं दूसरी तरफ भाजपा द्वारा सत्तास्थापन से इंकार करने के बाद चर्चा जोरों पर है कि कांग्रेस-राकांपा के समर्थन से शिवसेना राज्य में सरकार बना सकती है। राज्य में भाजपा के  सरकार बनाने से इंकार करने के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने दोहराया कि मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा। राउत ने कहा कि कल तक भाजपा सरकार बनाने का दावा कर रही  थी, लेकिन अब वह सरकार नहीं बना रही है। ऐसे में वे मुख्यमंत्री पद की जिद कैसे पूरी करेंगे? उन्होंने दावा किया कि किसी भी परिस्थिति में शिवसेना का ही मुख्यमंत्री होगा।  शिवसेना सांसद भाजपा के सरकार बनाने का दावा पेश नहीं करने के सवाल पर बोल रहे थे।

शिवसेना को समर्थन देने पर कांग्रेस विधायकों पर बढ़ा दबाव
विधायकों की पर्याप्त संख्या बल न होने का हवाला देते हुए भाजपा द्वारा राज्यपाल को सरकार बनाने का दावा पेश करने से इंकार पर दूसरी सबसे बड़ीपार्टी शिवसेना की सरकार  बनने के अवसर बढ़ गए है, जिसके तहत कांग्रेस और राकांपा के विधायकों पर दबाब बढ़ गया है। सूत्रों के मुताबिक टूटने की डर से अपने विधायकों को जयपुर भेजने वाली कांग्रेस पार्टी के 44 विधायकों में से 40 विधायकों ने शिवसेना को बाहर से समर्थन देने पर अपनी सहमति जताई है। बता दें कि राज्य में विधानसभा चुनाव के बाद राज्य की सबसे बड़ी  पार्टी भाजपा को सत्ता स्थापित करने के लिए शनिवार को राज्यपाल ने आमंत्रित किया था, जिसको लेकर रविवार को भाजपा की हुई दो बार कोर कमेटी की बैठक में यह फैसला  लिया गया कि भाजपा सरकार बनाने का दावा नहीं पेश करेंगी।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget