अभी और रूलाएंगे प्याज के दाम

नई दिल्ली
प्याज के बढ़ते दाम पर सरकार ने हाथ खड़े कर दिए हैं। केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान ने कहा कि प्याज के बढ़ते दाम पर  सरकार का कोई वश नहीं है। प्याज के दाम कब कम होंगे के सवाल पर पासवान ने कहा कि हमारे हाथ में नहीं है। मंत्रालय के सचिव के मुताबिक 12 दिसंबर तक विदेश से प्याज  की पहली खेप आएगी। बताया जा रहा है कि 1500 मीट्रिक टन प्याज आएगा पहले खेप में आने वाला है। इस तरह से कुल 4 खेप भारत आएगा। 6500 मीट्रिक टन प्याज मिस्र से   आयात हो रहा है। 56000 मीट्रिक टन प्याज सरकार के स्टॉक में था, जिसमें से 50 प्रतिशत प्याज सड़ गए। मिस्र से जल्द ही 6,090 टन प्याज की खेप आने वाली है, जिसके बाद  देश में प्याज के दाम में नरमी आ सकती है। यह जानकारी केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय की ओर से दी गई। मंत्रालय ने बयान में बताया कि  विदेश व्यापार करने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी एमएमटीसी ने मिस्र से 6,090 टन प्याज के आयात का अनुबंध किया है और प्याज की यह खेप जल्द ही आने वाली है। बयान  में कहा गया है कि प्याज की यह खेप जल्द ही मुंबई के नावा शेवा बंदरगाह पर आ जाएगी जहां से राज्य सरकारें अपनी मांग के अनुरूप प्याज खरीद सकती हैं। मंत्रालय से मिली  जानकारी के अनुसार, छह राज्यों की ओर से प्याज की मांग अब तक आ चुकी है, जिनमें आंध्रप्रदेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, केरल और सिक्किम शामिल हैं। आयातित प्याज का  बिक्री मूल्य मुंबई में 52-55 रुपए प्रति किलो होगा जबकि दिल्ली से प्याज खरीदने वालों को 60 रुपए प्रति किलो की दर से मूल्य का भुगतान करना होगा। उपभोक्ता मामले विभाग  में सचिव अविनाश कुमार श्रीवास्तव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राज्य सरकारों से उनकी मांगों के बारे पूछा। उन्होंने इस संबंध में 23 नवंबर को राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र  भी लिखा था। मंत्रालय ने बयान में कहा कि जरूरत पड़ने पर राज्यों को नैफेड परिवहन की सुविधा मुहैया करवाएगी। आयातित प्याज की सप्लाई दिसंबर के आरंभ से शुरू हो   जाएगी। मंत्रालय ने बताया कि दिल्ली में प्रदेश सरकार की ओर से अब तक कोई मांग नहीं की गई है। उधर, नैफेड ने बताया है कि वह अपने आउटलेट के साथ-साथ मदर डेयरी,  केंद्रीय भंडार और एनसीसीएफ के माध्यम से प्याज मुहैया करवाएगी। विभिन्न राज्यों की ओर से अब तक पहले सप्ताह के लिए 2,265 टन प्याज की मांग की गई है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget