उपमुख्यमंत्री अजित पवार को मनाने में राकांपा फेल

मुंबई
शनिवार को राज्य के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले राकांपा विधायक दल के नेता अजित पवार को पिछले तीन दिन से मनाने की कोशिश जारी है। इसी के तहत सोमवार को  राकांपा के प्रदेशाध्क्ष जयंत पाटिल, पूर्व उपमुख्यमंत्री छगन भुजबल और सांसद सुनील तटकरे विधानभवन पहुंचे, जहां उपमुख्यमंत्री अजित पवार से मुलाकात की। इसके बाद राकांपा  के वरिष्ठ नेताओं ने पवार के पार्टी में वापसी करने की बात कही। इसके पहले सोमवार की सुबह वरिष्ठ राकांपा नेता छगन भुजबल अजीत पवार के आवास पर पहुंचे। वहां उन्होंने  पवार के साथ करीब डेढ़ घंटे तक बातचीत की। इस चर्चा के बाद अजित पवार विधानभवन पहुंचे जहां मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस के साथ राज्य के पहले मुख्यमंत्री स्व यशवंत राव चव्हाण को श्रधांजलि अर्पित किया। इस दौरान राकांपा के नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री छगन भुजबल, दिलीप वलसे पाटिल और सुनील तटकरे उपस्थित थे। उसके बाद अजित पवार  विधान परिषद के सभापति रामराजे निंबालकर के कार्यालय स्थित हाल में गए, जहां पार्टी के तीनों नेताओं ने अजित पवार के साथ बैठक की। नेताओं की यह बैठक करीब तीन घंटे  तक चली, जिसमें हुई चर्चा में पवार को पार्टी में वापस लाने और उन्हें मनाने का प्रयास किया गया। इसके बाद शाम करीब चार बजे उपमुख्यमंत्री अजित पवार विधानभवन से अपने  आवास के लिए रवाना हो गए। वहीं बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में छगन भुजबल ने कहा कि हम घर को ढहने से बचाने का प्रयास करेंगे।

उपमुख्यमंत्री अजित पवार जल्द ग्रहण करेंगे पदभार
उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के तीन दिन बाद भी अजित पवार ने पदभार ग्रहण नहीं किया। ऐसे में अटकलों का बाजार गर्म हो गया है। कहा जा रहा है कि पदभार ग्रहण ने  करने वाले आने वाले दिनों में उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं। इसके साथ ही वे उनकी वापस घर वापसी भी हो सकती है। दूसरी तरफ सूत्रों के मुताबिक उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने अपना पदभार इसलिए ग्रहण नहीं किया, क्योंकि मंत्रालय में अब तक उनका कार्यालय तैयार नहीं है। आने वाले दो से चार दिनों में अजित पवार को कार्यालय मिल  जाएगा, जिसके बाद वे अपना पदभार ग्रहण करेंगे।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget