निर्भया के गुनहगारों को फांसी न मिलने से बलात्कारियों का बढ़ा मनोबल

बलिया
दिल्ली के 2012 सामूहिक बलात्कार कांड की पीड़िता निर्भया के दादा ने सोमवार को कहा कि निर्भया के गुनहगारों को फांसी न होने के कारणबलात्कारियों का मनोबल बढ़ा है और इसी वजह से  इन घटनाओं पर अंकुश नहीं लग पा रहा। निर्भया के दादा लाल जी सिंह ने पैतृक गांव मेड़वार कला में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि निर्भया कांड के सात वर्ष बाद भी बलात्कारियों को फांसी  पर नहीं चढ़ाया गया, इतने जघन्य कांड के अपराधी अब भी जेल में ही हैं। उन्होंने कहा कि यदि फांसी हो गई होती तो लोग बलात्कार से पूर्व दहशत में रहते। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार बलात्कार को लेकर नया सक्त कानून बनाने की बात कह रही है, लेकिन कानून बनाने से क्या हो जायेगा? सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार को कानून बनाना हो तो वह यह कानून बनाये कि लात्कार का आरोपी गिरफ्तार होने के बाद भीड़ के हवाले कर दिया जाये, जनता स्वयं इंसाफ कर देगी। उन्होंने कहा कि जिस दिन बलात्कारी को चौराहे पर खड़ा करके गोली मार दी जायेगी,  बलात्कार की घटनाओं पर स्वत: अंकुश लग जायेगा। उन्होंने कहा कि न्यायिक व्यवस्था में व्यापक सुधार की आवश्यकता है ताकि बलात्कार से जुड़े मामले लंबे समय तक लंबित न रहे। 

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget