जदयू-आरजेडी में छिड़ा पोस्टर वार

पटना
 जदयू ने विधानसभा चुनाव से पहले पोस्टर वार शुरू कर दिया है। जदयू ने 15 साल बनाम 15 साल के शासन को दिखाते हुए आरजेडी की तुलना गिद्ध से की है। वहीं खुद को  कबूतर दिखाते हुए शांति का प्रतीक बताया है। इस पोस्टर में जेडीयू ने आरजेडी के 15 साल के शासन को भाई का शासन बताया है, जबकि नीतीश कुमार के 15 साल के शासन को  भरोसे का प्रतीक बताया है। जदयू ने पोस्टर जारी करते हुए आरजेडी शासन की तुलना गिद्ध से की है। आरजेडी के 15 साल के शासन को गिद्ध का फोटो लगाकर संदेश देने की कोशिश की गई है कि आरजेडी का शासन में सिर्फ शोषण था वहीं दूसरी तरफ नीतीश कुमार के 15 साल के शासन की तुलना कबूतर से की गई है और बताया गया है कि नीतीश  के 15 साल का शासन शांति और भरोसे का शासन रहा है।
 जदयू द्वारा जारी किए गए पोस्टर पर आरजेडी और जदयू के बीच राजनीतिक जंग छिड़ गई है। जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि आरजेडी का 15 साल का शासन पति-पत्नी  का शासन था, जहां लूट और भ्रष्टाचार के सिवा कुछ नहीं था। इस पोस्टर में हमने आरजेडी की तुलना गिद्ध से इसलिए की है, क्योंकि कहा जाता है कि जिस घर पर गिद्ध बैठ जाता  है वहां कोई तरक्की नहीं होती। ऐसा ही शासन बिहार में लालू और राबड़ी के बैठने के बाद था। आरजेडी प्रवक्ता भाई बीरेंद्र ने जदयू के इस पोस्टर को हताशा बताते हुए कहा कि  जदयू कितना भी पोस्टर वार कर ले नीतीश कुमार का हारना अब तय है। बिहार की जनता समझ चुकी है कि बिहार में महिलाओं पर जैसा अत्याचार हो रहा है उससे डर के सिवा  और कुछ नहीं मिला। जदयू को पोस्टर से कोई फायदा नहीं होने वाला है, क्योंकि नीतीश कुमार को हटाने का जनता ने मन बना लिया है। गौरतलब है कि जदयू के पोस्टर जारी होने  से पहले पिछले दिन नीतीश के लापता होने का पोस्टर पटना में लगाया गया था, जिसे जदयू ने आरजेडी की करतूत बताई थी। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget