ओलंपिक क्वॉलीफायर ट्रायल्स : मेरीकॉम और निकहत में फाइनल फाइट

Nikhat Mary
नई दिल्ली
छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मेरीकॉम अगले साल होने वाले ओलंपिक क्वॉलीफायर के लिए महिला मु€केबाजी ट्रायल्स के 51 किग्रा फाइनल में निकहत जरीन के सामने होंगी।  दोनों ने शुक्रवार को अपने पहले दौर के मुकाबलों में सर्वसम्मत फैसले में जीत हासिल की। पूर्व जूनियर विश्व चैंपियन निकहत जरीन ने शुक्रवार को ज्योति गुलिया को जबकि कई बार की एशियाई चैंपियन मेरी कॉम ने ऋतु ग्रेवाल को मात दी। दो दिवसीय प्रतिस्पर्धा शनिवार को समाप्त होगी।

क्यों हुआ था विवाद
ओलंपिक क्वॉलीफायर के लिए चयन नीति पर भारतीय मु€केबाजी महासंघ के ढुलमुल रवैए के बाद जरीन ने कुछ हफ्ते पहले छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मेरीकॉम के खिलाफ  ट्रायल की मांग कर हंगामा खड़ा कर दिया था। मेरीकॉम ने कहा था कि वह बीएफआई की नीति का पालन करेंगी, जिसने अंत में ट्रायल्स कराने का फैसला किया। बीएफआई अध्यक्ष  अजय सिंह ने एक सम्मान समारोह में घोषणा कर हलचल मचा दी थी कि मेरीकॉम को उनके अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लगातार अच्छे प्रदर्शन के कारण बिना किसी ट्रायल के ओलंपिक  क्वॉलीफायर के लिए चुना जाएगा। इससे नाराज जरीन ने उचित मौका दिए जाने की मांग की थी। अन्य मुकाबलों में विश्व युवा स्वर्ण पदकधारी साक्षी ने 57 किग्रा में एशियाई रजत  पदक विजेता मनीषा मौन को हराया, जबकि पूर्व राष्ट्रीय चैंपियन सिमरनजीत कौर ने 60 किग्रा में पवित्रा को शिकस्त दी। दोनों नतीजे सर्वसम्मत रहे। ओलंपिक क्वॉलीफायर अगले  साल फरवरी में चीन में आयोजित किए जाएंगे।
महिला मु€केबाजी में सभी पांच वर्गों -51 किग्रा, 57 किग्रा, 60 किग्रा, 69 किग्रा और 75 किग्रा- का फैसला ट्रायल से ही होगा, क्योंकि कोई भी मु€केबाज विश्व चैंपियनशिप के फाइनल  में जगह नहीं बना सकी थी। पुरुषों का दो दिवसीय ट्रायल कर्नाटक के बेलारी में रविवार से शुरू होगा।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget