इमरान के शासन में हिंदू असुरक्षित

न्यूयॉर्क
पाकिस्तान में धार्मिक स्वतंत्रता की स्थिति लगातार खराब हो रही है। कट्टरपंथी विचारधारा के कारण वहां हिंदू सहित अन्य अल्पसंख्यक वर्ग के लोग सुरक्षित नहीं हैं। संयुक्त राष्ट्र  (यूएन) की एक ताजा रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ। पाकिस्तान में इमरान खान के सत्ता में आने के बाद अल्पसंख्यकों को प्रताड़ित करने के मामले बढ़े हैं। संयुक्त राष्ट्र में महिलाओं  की स्थिति पर आयोग (सीएसडब्ल्यू) ने 'पाकिस्तान: धार्मिक स्वतंत्रता पर हमला' शीर्षक से एक रिपोर्ट जारी की। 47 पन्नों की इस रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में इमरान खान  सरकार अल्पसंख्यकों पर हमले के लिए कट्टरपंथी विचारों को बढ़ावा दे रही है। अल्पसंख्यक खासकर हिंदू और ईसाई समुदाय सबसे ज्यादा खतरे में हैं। हर साल इन दोनों समुदायों  की सैकड़ों महिलाओं और बेटियों को अगवा कर धर्म परिवर्तन कराया जाता है। उन्हें मुस्लिम पुरुषों से शादी करने के लिए मजबूर किया जाता है। मुस्लिम युवकों से शादी होने के  बाद अपहरणकर्ताओं द्वारा दी गई गंभीर धमकियों के चलते पीड़िताओं के परिवार के पास लौटने की कोई उम्मीद नहीं होती है। हिंदू लड़कियों और महिलाओं को व्यवस्थित रूप से  लक्षित किया जाता है, क्योंकि वे कम आर्थिक पृष्ठभूमि से आती हैं। सीएसडब्ल्यू ने अल्पसंख्यक बच्चों का साक्षात्कार लिया। बच्चों ने स्वीकार किया कि उन्हें शिक्षकों व सहपाठियों द्वारा अपमानित किया जाता है।

पुलिस और न्याय व्यवस्था का रवैया भी भेदभावपूर्ण
संयुक्त राष्ट्र की ओर से जारी इस रिपोर्ट में पाकिस्तान की पुलिस और न्याय व्यवस्था पर भी गंभीर सवाल खड़े किए गए हैं। इसमें कहा गया कि पीड़ित अल्पसंख्यकों के प्रति  पाकिस्तान पुलिस और देश की न्यायपालिका भी भेदभावपूर्ण रवैया अपनाते हैं। अगवा की गई अल्पसंख्यक महिलाओं के मामले में पुलिस भी कोई कार्रवाई नहीं करती है। पुलिस  और न्यायपालिका अल्पसंख्यकों को दोयम दर्जे का नागरिक मानती है।

ईश निंदा कानून के दुरुपयोग पर चिंता जताई

सीएडब्ल्यू ने पाकिस्तान में ईशनिंदा और अहमदिया विरोधी कानून के बढ़ते राजनीतिकरण पर चिंता जताई है। रिपोर्ट में कहा गया कि पाकिस्तान में ईशनिंदा कानून का  अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न के लिए इस्तेमाल किया जाता है। ईशनिंदा कानून और उसके ऊपर बढ़ते कट्टरवाद की वजह से देश में सामाजिक सौहार्द को भारी नुकसान पहुंचा है।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget