’वर्षा’ मे उद्धव और ’सागर’ मे रहेंगे फडनवीस

Thakare Fadanvis
मुंबई
बीते 28 नवंबर को राज्य में गठित हुई नई सरकार के मुखिया और मंत्रियों और पूर्व सीएम फड़नवीस को रहने के लिए सरकारी आवासों (बंगलों) का आवंटन कर दिया गया है।  सोमवार को सामान्य प्रसाशन की तरफ से शासनादेश जारी किया गया, जिसमें राज्य के नए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को 'वर्षा' बंगला दिया गया है और पूर्व सीएम देवेंद्र फड़नवीस को  'सागर' मिला है। जबकि छगन भुजबल अपने पुराने 'रामटेक' बंगले पर रहने आएंगे। इसी प्रकार राकांपा नेता एवं मंत्री जयंत पाटिल को पूर्व उच्च शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े के  'सेवासदन' को आवंटित किया गया। साथ ही पिछली देवेंद्र फड़नवीस सरकार में महिला बालविकास मंत्री पंकजा मुंडे को आवंटित रॉयल स्टोन बंगले पर मौजूदा सरकार में नंबर दो के  मंत्री एकनाथ शिंदे रहेंगे। पिछले 28 नंबर के दिन राज्य के नए मुख्यमंत्री पद पर शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शपथ ली थी। साथ छह और मंत्रियों ने उनके साथ शपथ ली  थी। इन मंत्रियों को रहने के लिए सोमवार को सामान्य प्रशासन ने सरकारी बंगलों का आवंटन किया। इसमें मुख्यमंत्री सहित कुल चार मंत्रियो को सरकारी बंगले आवंटित किए। इसी  तरह पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा के विरोधी पक्ष नेता देवेंद्र फड़नवीस को मलबार स्थित सागर बंगला आवंटित किया गया है। सामान्य प्रशासन ने शासनादेश निकालकर इसकी  घोषणा की है। राज्य में उद्धव ठाकरे वाली महाविकास आघाड़ी सरकार का भले ही मंत्रिमंडल विस्तार नहीं हुआ है, लेकिन शपथ लेने वाले मंत्रियों को बंगला आवंटित कर दिया गया  है। बंगले आवंटित होने के बाद छगन भुजबल ने कहा कि रामटेक बंगला उनके लिए भाग्यशाली है। उन्होंने रामटेक बंगले को अपना पसंदीदा बंगला बताया है। मंत्री छगन भुजबल ने  कहा कि मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे रामटेक बंगला वापस मिला हैं, जिसे कुछ लोग भाग्यशाली मानते हैं और कुछ शापित। सोमवार को सरकारी बंगला आवंटित होने के एक दिन  पहले विधानसभा में विपक्षियों पर हमला बोलते हुए शायराना अंदाज में मैं समुंदर हूं लौटकर आऊंगा कहने वाले विधानसभा के विरोधी पक्ष नेता देवेंद्र फड़नवीस को रहने के लिए  सागर नामक सरकारी बंगला आवंटित किया गया। इसके पहले यह बंगला पूर्व आदिवासी विकास मंत्री विष्णु सावरा को आवंटित किया गया था। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार  विरोधी पक्ष नेता बनने के बाद देवेंद्र फड़नवीस ने बंगला आवंटित करने वाली सामान्य प्रशासन विभाग से कहा था कि उन्हें मंत्रालय के सामने आवंटित बंगले की जगह मलबार हिल सरकारी बंगला दिया जाए।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget