भर्ती प्रक्रिया के लिए महापोर्टल की क्षमता बढ़ाएंगे: मुख्यमंत्री

Uddhav thakare
नागपूर
राज्य सरकार के पशु संवर्धन विभाग के विभिन्न पदों की भर्ती के लिए बड़े पैमाने पर आवेदन आए हैं, इतने बड़े पैमाने पर विद्यार्थियों की ऑनलाईन परीक्षा लेने में महापोर्टल की  क्षमता कम पड़ेगी, इसके लिए महापोर्टल की क्षमता बढ़ाए जाने तक इस भर्ती प्रक्रिया को स्थगित किया गया है। साथ ही महापोर्टल के संदर्भ में परीक्षार्थियों की भावना ध्यान में  रखकर इस परीक्षा पद्धति में आवश्यक बदलाव किया जाएगा। यह जानकारी मुख्यमंत्री उद्घव ठाकरे ने विधान परिषद में उपस्थित किए गए ध्यानाकर्षण प्रस्ताव का उत्तर देते हुए  दी। विधान परिषद सदस्य सतीश चव्हाण, किरण पावसकर, हेमंत टकले, सतेज ऊर्फ बंटी पाटिल आदि सदस्यों ने यह ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पेश किया था।

महिला सुरक्षा को लेकर बनेगा कड़ा कानून
गृह मंत्री एकनाथ शिंदे ने विधान परिषद में कहा कि राज्य में महिलाओं पर अत्याचार रोकने और अपराधियों में डर पैदा करने के लिए आंध्र प्रदेश की तर्ज पर 'दिशा 2019' जैसा  कानून बनाने पर सरकार गंभीरतापूर्वक विचार कर रही है। वे शिवसेना विधायक डॉ. मनीषा कायंदे के ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के माध्यम से पूछे गए सवालों का जवाब दे रहे थे। शिंदे ने  कहा कि आंध्र प्रदेश जैसा कठोर कानून बनाने के लिए मुख्यमंत्री उद्घव ठाकरे ने पुलिस महानिदेशक से चर्चा की है। इस संबंध में विधि व न्याय विभाग से सलाह लेकर आगे की   कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि केंद्र ने महाराष्ट्र में बच्चों पर होने वाले अत्याचार के मामलों को चलाने के लिए 30 विशेष न्यायालय और महिलाओं पर अत्याचार के मामले  चलाने के लिए 108 विशेष फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने की मंजूरी दी है। इससे बच्चों और महिलाओं पर होने वाले अत्याचार के मामलों को तेज गति से निपटाने में मदद मिलेगी। नागपुर  के महापौर हमले की होगी जांच मुख्यमंत्री उद्घव ठाकरे ने विधानपरिषद में कहा कि नागपुर के महापौर संदीप जोशी पर हमले की जांच क्राइम ब्रांच करेगी। विरोधी दल नेता प्रवीण  दरेकर व अन्य सदस्यों द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि संदीप जोशी पर हमला मंगलवार की रात को हुआ है। इस मामले में पुलिस आयुक्त से बुलाकर  जानकारी ली गई है और तत्काल सक्त कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है। मेट्रो मार्ग की जगह पर हुए निर्माण कार्य की होगी जांच नगरविकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने मेट्रो मार्ग  पांच (ठाणे- भिवंडी-कल्याण) की जगह निर्माण कार्य की अनुमति दिए जाने वाले मामले की जांच कर पंद्रह दिन के अंदर रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है। शिवसेना विधायक  अनिल परब व अन्य सदस्यों द्वारा ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के माध्यम से मेट्रो पांच के मार्ग की जगह पर एमएमआरडीए की एनओसी लिए बिना निर्माण कार्य करने का मामला  उपस्थित किया था।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget