प्याज ने निकाले और आंसू

नई दिल्ली
देश के विभिन्न इलाकों में हाल में हुई बारिश के कारण प्याज का दाम फिर आसमान चढ़ने लगा है। देश की राजधानी दिल्ली में खुदरा प्याज 150 रुपए किलो तक बिकने लगा है  और दाम में और तेजी आने की संभावना जताई जा रही है। मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) स्थित आजादपुर मंडी में प्याज का थोक भाव 112 रुपए प्रति किलो से  ऊपर चला गया, जो अब तक का सबसे ऊंचा स्तर है। इसका बड़ा कारण हाल में हुई बारिश के साथ-साथ देशभर में नागरिकता संशोधन कानून परहो रहे विरोध प्रदर्शनों के कारण  प्याज की आवक पर असर होना है। आजादपुर एग्रीकल्चरल प्रोड्यूस मार्केट कमिटी के एक अधिकारी ने बताया कि अगर अफगानिस्तान से प्याज नहीं आई होती तो दिल्ली में प्याज  का भाव 200 रुपए किलो तक चला गया था। आजादपुर मंडी में मंगलवार को प्याज की कुल आवक 566.5 टन थी, जिसमें विदेशी प्याज 279.1 टन था। एपीएमसी की कीमत सूची  के अनुसार, दिल्ली में प्याज का थोक भाव मंगलवार को 70-112.50 रुपए प्रति किलो था। उधर, खुदरा बाजार से मिली जानकारी के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर में प्याज 100-150  रुपए प्रति किलो बिकने लगा है। आजादपुर मंडी ऑनियन मर्चेंट असोसिएशन के प्रेजिडेंट राजेंद्र शर्मा ने बताया कि बारिश के बाद जमीन में नमी होने के कारण किसान प्याज की  फसल खेतों से नहीं निकाल रहे हैं, यही वजह है कि देशभर में प्याज की आवक प्रभावित हुई है। बाजार सूत्रों के अनुसार, नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश में जगह-जगह हो   रहे विरोध प्रदर्शन से भी प्याज की आवक प्रभावित हुई है। कारोबारियों ने बताया कि प्याज का थोक दाम बढ़ने का असर अभी खुदरा बाजार में एक-दो दिनों तक बरकरार रहेगा,  इसलिए प्याज के खुदरा दाम में और वृद्धि हो सकती है। इस बीच सूत्रों ने बताया है कि सरकार द्वारा आयातित प्याज की पहली खेप मुंबई बंदरगाह पर पहुंच चुकी है। गौरतलब है  कि केंद्र सरकार ने देश में प्याज की उपलब्धता बढ़ाने के लिए 1.2 लाख टन प्याज का आयात करने का फैसला किया है। सरकार ने इसके अलावा थोक एवं खुदरा कारोबारियों के  लिए प्याज के भंडारण की सीमा तय कर दी है, ताकि कोई प्याज की जमाखोरी न कर पाए और कीमतों में हो रही वृद्धि पर लगाम लगाई जा सके। थोक कारोबारियों के लिए प्याज  भंडारण की तय सीमा 25 टन, जबकि खुदरा कारोबारियों के लिए दो टन है।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget