स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी को विजिलेंस टीम ने घूस लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तार

प्रयागराज
मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय (सीएमओ आफिस) में कार्यरत स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी पंकज कुमार पांडेय को घूस लेते पकड़ा गया है। उन्हें रविवार दोपहर यहां घूस लेते समय रंगे हाथ दबोच  लिया गया। अस्पताल का लाइसेंस देने के नाम पर स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी ने 35 हजार रुपये मांगे थे। एसपी (विजिलेंस) शैलेश कुमार यादव ने टीम के साथ पंकज कुमार को सीएमओ  कार्यालय में घेराबंदी कर घूस लेते गिरफ्तार किया। एसपी विजिलेंस ने आरोपी को जार्जटाउन पुलिस के हवाले किया है। उनके खिलाफ केस दर्ज किया जा रहा है।
स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी पंकज कुमार पांडेय सीएमओ कार्यालय प्रयागराज से संबद्ध थे। सीएमओ ने पॉली ब्लीनिक के लाइसेंस के लिए प्राधिकृत किया था। इसमें मेडिकल स्टोर के लाइसेंस आदि  का लाइसेंस दिया जाता है। प्रतापगढ़ के रानीगंज निवासी राजकुमार गुप्ता पुत्र मुन्नालाल गुप्ता ने पॉली क्लीनिक लाइसेंस के लिए आवेदन किया था। राजकुमार से स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी पंकज  कुमार 70 हजार रुपये घूस मांग रहे थे। 
राजकुमार ने इसकी शिकायत एसपी विजि लेंस शैलेश कुमार यादव से दो-तीन दिन पूर्व की थी। एसपी विजिलेंस ने बताया कि मामले की जांच कराई गई तो पंकज के खिलाफ अक्सर इस तरह की शिकायत मिलती है और शोहरत अच्छी नहीं है। इस पर उन्होंने आरोपी स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी को रंगे हाथों पकड़ने की स्कीम बनाई। एसपी विजिलेंस ने भु तभोगी राजकुमार से 35 हजार  रुपये लेकर उस पर पी ट्रेप की कार्रवाई के बाद उसे वापस दे दिया।
पी ट्रेप के बाद रुपये लेकर स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी पंकज कुमार को रुपये देने के लिए रविवार को प्रयागराज में मुलाकात की। राजकुमार के साथ विजिलेंस टीम के लोग भी मौजूद थे। ज्यों ही  राजकुमार ने पंकज को रुपये दिए, विजिलेंस टीम ने उन्हें पकड़ लिया। रंगे हाथ पकड़ने के बाद हिरासत में लेकर विजिलेंस टीम उन्हें जार्ज टाउन थाने भेजा गया। उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज  किया जा रहा है। 

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget