वॉलमार्ट ने भारत में 56 लोगों को नौकरी से हटाया

Wallmart

वॉलमार्ट ने भारत में अपने 56 अधिकारियों और कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया। इनमें आठ वरिष्ठ प्रबंधन स्तर के अधिकारी हैं। कंपनी ने सोमवार को कहा कि वह भारत में  अपने कारोबार को पुनर्गठित कर रही है, लेकिन वह यहां अपने कारोबार को लेकर प्रतिबद्ध है। वॉलमार्ट इंडिया के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) कृष अय्यर ने  बयान में कहा कि कंपनी भारत में अपने थोक खुदरा कारोबार को आगे बढ़ाने को लेकर प्रतिबद्ध है। इस छंटनी से प्रभावित ज्यादातर लोग कंपनी के अचल संपत्ति विभाग में काम  कर रहे थे। यह विभाग नए-नए स्टोर की जगह के प्रबंध का काम देखता है। इसे कंपनी के लिए थोक कारोबार के विस्तार में दिक्कत का संकेत माना जा रहा है। वॉलमार्ट के भारत  में 28 थोक स्टोर है, जहां से छोटे दुकानदारों को थोक में सामान की आपूर्ति की जाती है। सरकार ने छोटे किराना कारोबारियों के हित में विदेशी कंपनियों को बहु ब्रांड खुदरा कारोबार  में प्रवेश की छूट नहीं दी है। अय्यर ने कहा कि हमें कारोबार में दक्षता बढ़ाने के लिए अपनी कंपनी के ढांचे की समीक्षा की जरूरत है। इस समीक्षा के तहत हमने कार्यालय से 56  लोगों को हटाया गया है। इनमें से आठ वरिष्ठ प्रबंधन स्तर तथा 48 मध्यम तथा निचले प्रबंधन स्तर के कर्मचारी हैं। उन्होंने कहा कि इन कर्मचारियों को अच्छा मुआवजा दिया गया  है और हम उन्हें बाहर काम ढूंढने में भी सहयोग कर रहे हैं। अय्यर ने हालांकि इन खबरों का खंडन किया कि कंपनी भारत से निकलने की योजना है और इसके तहत वह अप्रैल में  दूसरे दौर की छंटनी करेगी। कंपनी ने अभी जो छंटनी की है वह भारत में उसके कार्यबल का एक प्रतिशत है। अय्यर ने दूसरे दौर की छंटनी को अटकलबाजी और गलत बताया।  उन्होंने कहा कि कंपनी भारत में अपने बी2बी कैश एंड कैरी कारोबार को आगे बढ़ाने को प्रतिबद्ध है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget