एक माह मे पकड़े गये 622 बिजली चोर

ठाणे
महावितरण के भांडूप परिमंडल द्वारा बीते महीने चलाए गए विशेष अभियान के तहत कुल 622 बिजली चोरों को बिजली विभाग ने पकड़ा है। इसके साथ ही जांच में कुल एक करोड़   85 लाख रुपए बिजली चोरी का खुलासा हुआ है। उल्लेखनीय है कि भांडूप परिमंडल में आने वाले ठाणे, वाशी और पेण मंडल कार्यालय की सीमा में बीते एक महीने तक बिजली चोरों  के खिलाफ जोरदार मुहिम चलाने का आदेश प्रादेशिक निदेशक अंकुश नाले ने दिया था। उनके आदेश का अनुसरण करते हुए भाडूंप परिमंडल की मुख्य अभियंता पुष्पा चव्हाण के  मार्गदर्शन में इस मुहिम को तीव्र गति से चलाया गया। मूहिम पर खुद मुख्य अभियंता चव्हाण नजर बनाए हुए पल- पल की खबर ले रही थीं। एक दिसंबर से 31 दिसंबर तक चलाई  गई इस मुहिम के तहत कुल 622 लोगों को पकड़ते हुए एक करोड़ 85 लाख रुपए के बिजली चोरी का पर्दाफाश किया। बताया गया कि पकड़े गए 491 बिजली चोरों को खिलाफ  बिजली कानून 2003 की धारा 135 और 131 पर धारा 126 के तहत कार्रवाई की गई। मुख्य अभियंता पुष्पा चव्हाण ने बताया कि मीटर से छेड़छाड़ अथवा मीटर में बायपास करने  के साथ बिजली के तारों पर सीधे कटिया डालकर चोरी की जा रही थी। मुहिम में करीब 14 लाख यूनिट की बिजली चोरी हुई है। इसके साथ ही अप्रैल से नवंबर 2019 के बीच भांडूप  परिमंडलों में धारा 135 के तहत एक हजार 296 बिजली चोरों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए पांच करोड़ एक लाख रुपए की दंड वसूली की गई है। इसी  तरह इन आठ महीनों में  धारा 126 के तहत 489 बिजली चोरों से चार करोड़ 45 लाख रुपयों की वसूली की गई है। अप्रैल से लेकर अब तक कुल दो हजार 407 बिजली चोरों को पकड़ा गया है। सभी के  खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की गई है। मुख्य अभियंता पुष्पा चव्हाण ने बिजली उपभोक्ताओं से आवाहन किया है कि विद्युत का उपयोग सही तरीके से करते हुए बिजली चोरी से  जैसे आपराधिक मामलों से दूर रहें। कहा गया कि तीनों मंडलों के अधीक्षक अभियंता अरविंद बुलबुले, राजाराम माने और दीपक पाटिल के नेतृत्व में मुहिम चलाया गया, जो आगे भी   लगातार जारी रहेगा।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget