एडवोकेट शिशिर त्रिपाठी के परिवार की सुरक्षा के निर्देश : रक्षामंत्री

लखनऊ
राजधानी के चर्चित कृष्णानगर में अधिवक्ता शिशिर त्रिपाठी की हत्या के मामले में फरार आरोपितों को दबोचने के लिए चार टीमें गठित की गई हैं। सीओ कृष्णानगर अमित कुमार  राय के मुताबिक, पुलिस की एक टीम बरेली, दूसरी बाराबंकी और तीसरी राजधानी में आरोपितों के संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही हैं। एक टीम साक्ष्य संकलन के लिए लगाई  गई है। जल्द ही आरोपितों को दबोच लिया जाएगा।
वहीं, लखनऊ से सांसद और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने मामले में यूपी डीजीपी ओपी सिंह से बात कर शिशिर परिवार की सुरक्षा और शस्त्र लाइसेंस जारी करने के निर्देश दिए हैं।  इसके साथ ही भाजपा के महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा और युवा नेता नीरज सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर शिशिर के परिवार की मुआवजा राशि बढ़ाने का  आग्रह किया। वहीं, शिशिर हत्याकांड मामले को लेकर शुक्रवार को भी वकीलों में जबरदस्त आक्रोश दिखाई दिया। यूपी प्रेस फ्लब में आयोजित वार्ता में यूपी बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष हरिशंकर सिंह ने कहा कि पिछले कुछ महीनों में कई वकीलों की नृशंस हत्या की गई है और पुलिस प्रशासन की ओर से कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं हो रही। राज्य  सरकार तत्काल की सुरक्षा के लिए एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू करें। अधिवक्तओं के लंबित शस्त्र लाइसेंस तत्काल जारी किए जाएं। उन्होंने राज्य सरकार पर वकीलों की उपेक्षा  करने का आरोप लगाया है। हरिशंकर सिंह ने कहा कि 70 वर्ष की आयु तक के अधिवक्तओं की मृत्यु होने पर उनकी विधवाओं को 5 लाख रुपए की सहायता राशि दी जाती है,  लेकिन पिछले 2 वर्षों से राज्य सरकार ने इस कल्याण निधि के तहत रकम जारी नहीं की, ऐसे में मृतक वकीलों की विधवाओं के करीब 500 आवेदन लंबित हैं। राज्य सरकार   तत्काल पिछले 2 वर्षों का बकाया 80 करोड़ रूपया भी जारी करें।
वहीं, मृतक शिशिर त्रिपाठी के परिवार को 50 लाख रुपए सहायता राशि देने की मांग भी की गई। उन्होंने कहा कि न्यायालयों की सुरक्षा व्यवस्था भी हाशिए पर है। शनिवार (11  जनवरी) को बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश की कार्यकारिणी की आपात बैठक बुलाई गई है, अगर सरकार ने हमारी मांगे नहीं मानी तो वकील सड़क पर उतर कर धरना प्रदर्शन  और चक्काजाम करेंगे। लखनऊ से सांसद और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने शिशिर त्रिपाठी हत्याकांड के संबंध में डीजीपी ओपी सिंह से बात कर मामले की जानकारी ली। उन्होंने शिशिर  के परिवार की सुरक्षा और शस्त्र लाइसेंस जारी करने के निर्देश दिए हैं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget