एनपीआर नहीं भरेंगे तो चुनाव भी नहीं लड़ पाएंगे अखिलेश: बालियान

सहारनपुर
केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी नेता संजीव बालियान ने समाजवादी पार्टी चीफ अखिलेश यादव पर हमला बोला है। हाल ही में अखिलेश यादव ने कहा था कि वह नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर  (एनपीआर) का फॉर्म नहीं भरेंगे। इस पर संजीव बालियान ने कहा है कि अगर अखिलेश यादव एनपीआर नहीं भरेंगे, तो वह चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। यही नियम है।
संजीव बालियान ने कहा कि अखिलेश यादव कहते हैं कि वह एनपीआर फॉर्म नहीं भरेंगे। अगर वह फॉर्म नहीं भरेंगे तो उन्हें चुनाव लड़ने की अनुमति भी नहीं मिलेगी। कानूनी तौर पर यही  यम  है। जो नियमों का पालन नहीं करेंगे, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि समाजवादी पार्टी एनआरसी और एनपीआर का विरोध कर रही है। अखिलेश ने कहा था कि हम  विधान बचाना चाहते हैं, लेकिन जिनसे मुकाबला है, वे संविधान को कुछ नहीं समझते। नौजवानों को रोजगार चाहिए या एनपीआर? उन्होंने कहा कि बीजेपी के लोग तय नहीं करेंगे कि हम  नागरिक हैं या नहीं। महात्मा गांधी ने दक्षिण अफ्रीका में रास्ता दिखाया था। उन्होंने कुछ कार्ड जला दिए थे। यहां हम पहले होंगे जो एनपीआर का फॉर्म नहीं भरेंगे, मैं कोई फॉर्म नहीं भरने जा  रहा। नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर यानी एनपीआर भारत में रहने वाले सामान्य निवासियों का एक रजिस्टर है। यह यहां रहने वाले लोगों (निवासियों) का रजिस्टर है। इसे ग्राम पंचायत, तहसील,  राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर तैयार किया जाता है। नागरिकता कानून, 1955 और सिटिजनशिप रूल्स, 2003 के प्रावधानों के तहत यह रजिस्टर तैयार होता है। एनपीआर को समय-समय पर  अपडेट करना एक सामान्य प्रक्रिया है और इसका उद्देश्य देश में रह रहे लोगों का अपडेटेड डेटाबेस तैयार करना है ताकि उसके आधार पर योजनाएं तैयार की जा सकें। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget