सेबी का बाजार गड़बड़ी पर अंकुश लगाने पर जोर

मुंबई
सेबी के चेयरमैन अजय त्यागी ने गुरुवार को कहा कि पूंजी बाजार नियामक बाजार में गड़बड़ी की आशंका को ध्यान में रखते हुए सोशल मीडिया पोस्ट पर नजर रखने और उसका  विश्लेषण करने के लिए जरूरी प्रौद्योगिकी हासिल करने पर ध्यान दे रहा है। उन्होंने शहर के समीप पतालगंगा में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सिक्योरिटीज मार्केट में कहा कि हाजिर  बाजार में गड़बड़ी पर अंकुश लगाने के लिए कृत्रिम मेधा, मशीन लर्निंग, बड़े आंकड़ों के विश्लेषण की तकनीक का उपयोग किया जा रहा है। त्यागी ने कहा कि मानक प्रौद्योगिकी का  उपयोग कर बाजार में गड़बड़ियों का पता लगाना मुश्किल होता जा रहा है क्योंकि ये उपकरण केवल कीमत और मात्रा से जुड़े उपल ध आंकड़े का ही विश्लेषण करते हैं। उन्होंने कहा  कि हम प्रौद्योगिकी और बिखरे आंकड़े के विश्लेषण की क्षमता चाहते हैं क्योंकि उपल ध आंकड़े के विश्लेषण से बहुत ज्यादा मदद नहीं मिल रही है। गड़बड़ी करने वाले ऐसी चीजों  का उपयोग कर रहे हैं। प्रौद्योगिकी हासिल करने के लिए निविदा भी जारी की गई है। सेबी प्रमुख ने कहा कि कृत्रिम मेधा (एआई) और मशील लर्निंग प्रौद्योगिकी में प्रतिभूति बाजार  परिदृश्य में व्यापक बदलाव लाने की क्षमता है। फ्लॉकचेन का उपयोग समाशोधन और निपटान गतिविधियों में किया जा सकता है। त्यागी ने कहा कि एआई और मशीन लर्निंग  प्रौद्योगिकी का उपयोग पूंजी बाजारों में कोष प्रबंधन, व्यापार निगरानी और निगरानी कार्यों में बढ़ रहा है।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget