सीएए प्रदर्शनकारियों पर रेलवे की बड़ी कार्रवाई

CAA Protest
नई दिल्ली
भारतीय रेल ने पश्चिम बंगाल, असम और बिहार में सीएए विरोधी प्रदर्शनों में रेल संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और आगजनी की घटनाओं में शामिल 21 कथित उपद्रवियों की  पहचान की है। इनको गिरफ्तार भी कर लिया गया है। आरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि करीब 87.99 करोड़ रुपए की संपत्ति के नुकसान की भरपाई तोड़फोड़ की  घटनाओं में शामिल लोगों से की जाएगी। उल्लेखनीय है कि संसद द्वारा नागरिकता कानून सीएए पारित किए जाने के बाद बीते दिनों देश के विभन्नि हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन हुए  थे। इन प्रदर्शनों के दौरान भीड़ में शामिल लोगों और पुलिस के बीच हिंसक झड़पें भी हुई थी। बीते दिनों रेलवे ने कोलकाता हाई कोर्ट में दाखिल अपनी रिपोर्ट में बताया था कि अकेले  बंगाल में ही 13 से 15 दिसंबर के बीच हुए इन प्रदर्शनों में 84 करोड़ रुपए की रेल संपत्ति का नुकसान हुआ है। आरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि करीब 87.99 करोड़  रुपए की संपत्ति के नुकसान की वसूली उपद्रवों में शामिल लोगों से की जाएगी। रिपोर्टों में कहा गया है कि नाराज प्रदर्शनकारियों ने पटरियों पर बोल्डर डाले और ट्रेन के डिब्बों को  आग के हवाले किया था। अब तक जीआरपी (गवर्नमेंट रेलवे पुलिस) ने 27 जबकि रेलवे सुरक्षा बल यानी आरपीएफ ने 54 मामले दर्ज किए हैं। यही नहीं रेलवे संपत्ति को नुकसान पहुंचाने, आगजनी एवं हिंसा के सिलसिले में 21 को गिरफ्तार किया गया है।
आरपीएफ अधिकारी ने बताया जिन 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें से कुछ को घटनास्थल से पकड़ा गया, जबकि कुछ की पहचान वीडियो फुटेज के जरिए की गई।  तोड़फोड़ में शामिल लोगों की पहचान के लिए अभी भी वीडियो फुटेज की जांच पड़ताल का काम जारी है। इससे गिरफ्तार लोगों की संख्या और बढ़ने का अनुमान है। अधिकारी के  मुताबिक, सर्वाधिक गिरफ्तारियां पश्चिम बंगाल से की गई हैं। संपत्ति की भरपाई के लिए गिरफ्तार किए गए लोगों को नोटिस भेजे जाएंगे।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget