सुमो का तेजस्वी पर हमला

पटना
बिहार के उपमुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए दावा किया कि राजद ने महागठबंधन के घटक दलों  से राय लिए बिना मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित कर दिया। उन्होंने कहा कि राजद ने जिन्हें सीएम उम्मीदवार घोषित किया है, उनपर महागठबंधन के किसी दल का विश्वास नहीं  है। सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा कि राजद ने महागठबंधन के घटक दलों से राय लिए बिना 2020 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए जिन्हें मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित  किया, उन पर किसी दल का विश्वास नहीं। उन्होंने कहा कि तेजस्वी पिछले 32 महीनों में विरोधी दल के नेता के रूप में कोई भरोसेमंद छवि नहीं बना सके। सुशील मोदी ने तेजस्वी  यादव की ओर इशारा करते हुए आरोप लगाया कि राजद के बड़े नेता चमकी बुखार और बाढ़ जैसी आपदा के समय जनता के बीच नहीं दिखे। सदन में जनहित का एक भी सवाल न   पूछने वाले नेता केवल सोशल मीडिया पर सक्रिय रहते हैं। ऐसे ट्विटर Žवॉय के नेतृत्व में लोकसभा का चुनाव लड़ने पर विपक्षी पार्टी जीरो पर आ गई। अब उन्हें नेता मानने से  कांग्रेस ने भी इंकार कर दिया है। मोदी ने आरोप लगाया कि लालू परिवार में पावर वॉर के साथ-साथ तलाक और घरेलू हिंसा को लेकर दायर मुकदमों से भी राजद के युवराज  (तेजस्वी) की हताशा बढ़ी है। उन्होंने राजद की ओर इशारा करते हुए आरोप लगाया कि जिस पार्टी की सियासी सरपरस्ती मिलने से राजबल्लभ यादव और अरुण यादव जैसे लोग  विधायक बनने पर जनता की सेवा करने के बजाय गरीबों की नाबालिग बेटियों से बलात्कार जैसा अपराध करते हैं, उसे दूसरों को महिला विरोधी बताने से पहले अपना घर देखना  चाहिए।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget