महाराष्ट्र में रहने वाले प्रत्येक नागरिक को मराठी आना जरूरी : राज्यपाल

koshyari
ठाणे
महाराष्ट्र और उत्तराखंड के बीच सांस्कृतिक आदान- प्रदान के साथ ही कई अन्य चीजों में एकरूपता है। मराठी और उत्तराखंड की पहाड़ी भाषा में कुछ समानता भी है। मराठी बोलना  बहुत कठिन नहीं है। महाराष्ट्र में रहने वाले प्रत्येक नागरिक को मराठी भाषा का ज्ञान होना आवश्यक है। उक्त बातें कहते हुए राज्य के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने आवाहन  किया कि महाराष्ट्र में रहने वाले सभी गैरमराठी यहां की भाषा को सीखने का प्रयास करें। नवी मुंबई के वाशी में निर्मित उत्तराखंड भवन का लोकार्पण राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी  के हाथों संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, उत्तराखंड की आदिवासी मंत्री रेखा त्यागी, नवी मुंबई के महापौर जयवंत सुतार, विधायक गणेश  नाईक, मंदा हात्रे आदि उपस्थित थे। इस दौरान अपने संबोधन में राज्यपाल कोश्यारी ने कहा कि उत्तराखंड राज्य की तरह महाराष्ट्र के सांस्कृतिक वैभव को बढ़ाने के लिए राज्य  सरकार से वे विचार- विमर्श करेंगे। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश प्रगति पर चल रहा है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के माध्यम से गांवों तक  पक्की सड़कें पहुंच गई हैं। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी इस योजना को प्रभावी तरीके से अमल में लाने का सतत प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज पूरे देश में सड़कों का जाल  फैल गया है। सड़कों के माध्यम से देश के सभी राज्य एक-दूसरे से जुड़ गए हैं। इसीलिए लोग गडकरी को सड़ककरी कहने लगे हैं।
उन्होंने आगे कहा कि मुंबई देश की आर्थिक राजधानी है। यहां निवास करते समय लोग अपने मूल राज्य और प्रांत को न भूलें। अपने गांव को विकास के पथ पर अग्रसर करने के लिए वहां का दौरा अवश्य करें। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड में एडवेंचर टूरिज्म विकसित किया जाएगा, जिस पर 1200 करोड़ रुपए खर्च कर टेहरी  पर्यटन स्थल विकसित किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने उत्तराखंड में सरकार की तरफ से चलाए जा रहे विभिन्न उपक्रमों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड भवन  राज्य के लिए सम्मान का प्रतीक है। पर्यटन, उत्पादन और निवेशकों के लिए भवन में कार्यालय बनाए जाएंगे। नवी मुंबई के महापौर जयवंत सुतार ने उत्तराखंड सरकार को जितना  अधिक हो सके उतनी मदद करने का आश्वासन दिया
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget