कैसे करें प्रदूषण से बचाव

मुंबई की हवा का गुणवत्ता सूचकांक यानि एयर क्वॉलिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 'मध्यम' स्तर तक गिरने की वजह से मुंबईकरों को श्वसनसंबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता  है। सिस्टम ऑफ एयर क्वॉलिटी वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (एसएएफएआर) के अनुसार मालाड में हवा की गुणवत्ता खराब रही (244), इसके बाद बोरिवली (228 खराब), बीकेसी  (210 खराब), अंधेरी (188 मध्यम), कुलाबा (104 मध्यम), मजगांव (136, मध्यम) जबकि चेंबुर में (181 मध्यम) दर्ज की गई। शहर के डॉक्टरों ने श्वसनसंबंधी बीमारियों को दूर  रखने के लिए चेहरे को ढकने जैसे बचावात्मक उपाय करने की सलाह दी है। मुंबई स्थित डॉक्टरों के अनुसार शहर में हवा की गुणवत्ता बिगड़ने के कारण विभिन्न श्वसनसंबंधी  बीमारियों से पीड़ित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी देखी जा रही है। जेन मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल के चेस्ट फीजिशियन डॉ. अरविंद काटे का कहना है, पिछले दो सप्ताह से हवा की  खराब गुणवत्ता और बदलते मौसम के चलते ऊपरी श्वसन तंत्र संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है। खांसी, छींक आना, बुखार, छाती में जकड़न, सांस लेने में तकलीफ, बहती  नाक, बदन दर्द की तकलीफ के साथ मेरे पास आने वाले मरीजों की संख्या में करीब 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। इसके साथ ही उन लोगों को जो जल्दी मॉर्निंग वॉक को जाते हैं  उन्हें ज्यादा तकलीफ हुई है क्योंकि सुबह हवा में ज्यादा मात्रा में धूल के कण मौजूद होते हैं। जल्दी मॉर्निंग वॉक पर जाना टालें; स्टीम (भाप) लें क्योंकि क्योंकि प्रदूषक तत्व नाक के  जरिए शरीर में प्रवेश करते हैं। ब्रोन्कायटिस, लंग फायब्रोसिस और अस्थमा के मरीज एयर प्यूरीफायर का विकल्प ले सकते हैं। मुंबई स्थित अपोलो स्पेक्ट्रा हॉस्पिटल की कन्सल्टेंट  फीजिशियन और इन्टेन्सिविस्ट डॉ. पूर्वी छाबलानी का कहना है, अगले दो दिनों के लिए हवा की खराब गुणवत्ता के बारे में अनुमान दर्शाया गया है इसलिए यदि आप घर के बाहर  निकल रहे हों तो फेस मास्क का इस्तेमाल कर सकते हैं, धूम्रपान छोड़कर, अपने घर के बेकार सामानों को फेंककर और उसेहवादार बनाकर घर के अंदर वायु प्रदूषण को कम कर सकते हैं। इसके अलावा सरकार द्वारा भी बाहर फैले वायु प्रदूषण को कम करने के लिए कड़े कदम उठाए जाने की जरूरत है। सेब, खुबानी, फलियां (बीन्स), अखरोट, ब्रोकोली,  जामून जैसे ताजे फल और सब्जियां को अपने संतुलित आहार में शामिल करें और अपने फेफड़ो को अच्छी स्थिति में बनाए रखने के लिए पानी पीते (डायड्रेटेड) रहें।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget