शराबबंदी पर जेडीयू ने दिया आरजेडी को जवाब

पटना
 बिहार में शराब की बिक्री पर पूरी तरह से रोक है। इस बीच, आरजेडी विधायक भाई विरेंद्र ने यह बयान देकर राजनीति गर्मा दी है कि जब बिहार में महगठबंधन की सरकार नेगी तो शराबबंदी   लेकर जनमत संग्रह कराया जाएगा। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि अवैध रूप से शराब की बिक्री हो रही है, जिसकी वजह से राजस्व का नुकसान हो रहा है। हालांकि, जेडीयू ने आरजेडी की  तों को सपना करार देते हुए तंज कसा है। भाई विरेंद्र ने कहा कि बिहार में शराबबंदी तो है नहीं, लेकिन बिहार सरकार की ओर से राजस्व की हानि के लिए सारा काम किया गया है। सबसे खास यह कि ये पैसा सरकार से जुड़े रसूखदार अधिकारियों और नेताओं के खाते में जा रहा है। जब यह लागू हो रहा था तो हम भी नके साथ थे, लेकिन हम ढकोसले के साथ नहीं हैं। इसलिए जब हमारी सरकार आएगी तो जनमत संग्रह करवाएगी और जो भी राय बनेगी उसके अनुसार फैसला लिया जाएगा। जेडीयू के नेता और बिहार सरकार में मंत्री श्याम रजक ने इस पर पलटवार किया  । उन्होंने कहा कि जितने साल वे सत्तामें रहे और जितने साल से उनकी पार्टी है, इस सवाल के अलावा समाज में कटुता फैलाने, कई लोगों का शोषण और दोहन करवाने का भी जनमत संग्रह करवा लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के सीने पर बिहार के 12 करोड़ लोगों का ठप्पा पड़ गया है। वो सपना देखना चाहें तो देखतेरहें। आरजेडी के इस बात का समर्थन हिंदुस्तान आवाम मोर्चा ने भी किया है और कहा है कि इसकी जरूर समीक्षा होनी चाहिए। हालांकि, इसके बाद हमारी टीम ग्रामीण महिलाओं के बीच पहुंचकर शराबबंदी पर राय जानी तो किसी भी महिला 
ने ये नहीं कहा कि शराब की बिक्री फिर सी शुरू हो, लेकिन इस बात को लेकर वे बेहद नाराज दिखीं कि अभी भी पहले की तरह शराब की बिक्री हो रही है जिसे तुरंत रोका जाना चाहिए। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget