पश्चिम रेलवे में वेंडर डेवलपमेंट मीट का आयोजन

मुंबई
पश्चिम रेलवे के सामग्री प्रबंधन विभाग द्वारा 11 फरवरी, 2020 को महालक्ष्मी जनरल स्टोर डिपो के सम्मेलन कक्ष में वेंडर डेवलपमेंट मीट का आयोजन किया गया, जिसमें 125  से भी अधिक प्रतिभागियों ने अपनी सहभागिता दर्ज कराई। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी रविंद्र भाकर द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार इस वेंडर मीट का उद्देश्य  गवर्नमेंट ई-मार्केट प्लेस के जरिये आम सामानों की आपूर्ति एवं सेवाओं तथा घरेलू संविदाओं के लिए लेटर ऑफ क्रेडिट पेमेंट ऑप्शन के बारे में वेंडरों को जागरूक करना था। मुख्य  अतिथि के तौर पर परे के प्रमुख मुख्य सामग्री प्रबंधक ज्योति प्रकाश पाण्डेय ने इंडस्ट्री फ्रैटरनिटी को भारतीय रेल की प्रगति में एक भागीदार बनने तथा भारतीय रेल आपूर्ति श्रृंखला  प्रबंधन प्रणाली को मजबूत बनाने की अपील की। विश्व की सबसे बड़े रेलों में से एक होने एवं लगभग 8.4 बिलियन यात्रियों एवं 1.2 बिलियन माल ढोने की वार्षिक क्षमता के साथ  ही रेलवे को उत्पादन, परिचालन एवं अपने इंफ्रास्ट्रचर के अनुरक्षण के लिए विभिन्न प्रकार की यांत्रिक, विद्युत, सिगनलिंग, ट्रैक फीटिंग, ईंधन एवं सामान्य मदों की आवश्यकता है।  उन्होंने यह भी बताया कि पश्चिम रेलवे आम सामग्री एवं सेवाओं के लिए IREPS एवं गवर्नमेंट ई-मार्केट प्लेस के जरिये ऑन लाइन प्रोयोरमेंट की ओर शत-प्रतिशत बढ़ते हुए  इज ऑफ डूइंग बिजनेस में बहुत आगे बढ़ चुकी है। घरेलू संविदाओं में एसबीआई के जरिये वेंडरों को भुगतान हेतु लेटर ऑफ क्रेडिट की शुरुआत के लिए की गई पहल  वेंडरों के प्रति  रेलवे की प्रतिबद्धता को दर्शाती है। परे की प्रमुख वित्त सलाहकार उमा रानाडे ने बताया कि प्रक्रियाओं के डिजिटलाइजेशन एवं कम्प्यूटराइजेशन की दिशा में सरकार द्वारा कदम  उठाये जा रहे हैं तथा साथ ही रेलवे द्वारा GeM और ई-टेंडरिंग के जरिये खरीद में ई-गवर्नेंस लाते हुए पहल की जा रही है। परे के मुख्य सामग्री प्रबंधक अशोक कुमार ने रेलवे के  सामग्री प्रबंधन विभाग में परिवर्तनकारी बदलाव पर एक पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन की प्रस्तुति की। उप मुख्य सामग्री प्रबंधक एसबी मिश्रा ने बताया कि इस मीट के दौरान संवाद सत्र में   सबंधित सदस्यों द्वारा पूछताछ से इस वेंडर मीट के उद्देश्य की उपलब्धि का पता चलता है।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget