दुनिया की पहली ह्यूमनॉइड रोबोट सोफिया पहुंचीं बीएचय

वाराणसी
दुनिया की पहली ह्यूमनाइट रोबोट सोफिया बनारस हिंदू विश्वविद्यालय पहुंच गई हैं। आईआईटी बीएचयू के सालाना तकनीक उत्सव टेनेस का इस बार 81वां संस्करण है, जिसमें  शिरकत करने के लिए सोफिया पहुंची हैं। उत्सव की तैयारियां पूरी हो चुकी है। बता दें, 14 फरवरी 2016 को सोफिया को एक्टिव किया गया था, जबकि मार्च 2016 में अमेरिका के
टेसास में पहली बार सोफिया को जनता के सामने लाया गया था। इस लिहाज से शुक्रवार को वेलेंटाइन डे के मौके पर सोफिया अपना चौथा जन्मदिन बनारस की धरती पर मनाया।  वैसे तो गुरुवार शाम को ही सोफिया के पहुंचने का शेड्यूल था, लेकिन  लाइट निरस्त होने के कारण वे शुक्रवार सुबह बीएचयू पहुंचीं। तकनीक के नए-नए अविष्कारों के बीच सोफिया   का मौजूद होना छात्र-छात्राओं को उत्साह से लबरेज कर रहा है। बता दें कि अटूबर 2017 में सऊदी अरब से नागरिकता मिलने के बाद बीएचयू यूपी का पहला शिक्षण संस्थान है, जहां  सोफिया दौरे पर आई हैं। एक सामान्य महिला की तरह दिखने वाली सोफिया इंसानों की तरह बातचीत करती हैं। सोशल मीडिया पर भी मौजूद है। हमारी और आपकी तरह देश- दुनिया की हर बड़ी-छोटी खबर से सोफिया अपडेट रहती हैं। दुनिया की वह पहली रोबोट हैं, जिसे किसी देश की नागरिकता मिली है। सोफिया का निर्माण हांगकांग की एक कंपनी   हैनसन रोबोटिस के डेबिड हेपबर्न ने किया है। हॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री आड्री हेपबर्न की शल ओ सूरत सोफिया को दी गई है। दावा किया जाता है कि सोफिया 50 से ज्यादा चेहरे  के भाव को प्रदर्शित कर सकती हैं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget