राजधर्म के नाम पर लोगों को ना भड़काए कांग्रेस: रविशंकर

Ravi Shankar Prasad
राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा तो थम गई है, लेकिन इस मसले पर राजनीतिक बयानबाजी अभी भी जारी है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के द्वारा मोदी सरकार पर किए गए  राजधर्म के हमले पर अब भारतीय जनता पार्टी ने पलटवार किया है। शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी राजधर्म के नाम पर लोगों  को भड़काने का काम ना करे। भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि सोनिया गांधी ने रामलीला मैदान में भड़काऊ बयान दिए थे। गुरुवार को कांग्रेस पार्टी राष्ट्रपति के पास गई और  राजधर्म की बात की।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश से आए अल्पसंख्यकों को लेकर पार्टी का एक स्टैंड रहा है। अशोक गहलोत, शिवराज पाटिल ने भी तब इसकी मांग  की थी। आपने इस राजधर्म के मसले को उठाया, अब हम इसे पूरा कर रहे हैं। रविशंकर प्रसाद ने सोनिया गांधी के बयान का हवाला देते हुए कहा कि रामलीला मैदान में आपने  उकसाने वाली भाषा का प्रयोग किया। आपकी ही सरकार ने 2010 में एनपीआर का नोटिफिकेशन जारी किया, अगर आप करें तो ठीक लेकिन हम करें तो आप लोगों को भड़काना   शुरू कर देते हैं। 'कांग्रेस खुद को राजधर्म के आइने में देखे' शाहीन बाग में जारी विरोध प्रदर्शन पर केंद्रीय मंत्री बोले कि वहां पर प्रधानमंत्री के खिलाफ बोलने के लिए बच्चों को  भड़काया जा रहा है, लेकिन सोनिया गांधी उसपर चुप रहती हैं। ऐसे में कांग्रेस पार्टी हमें राजधर्म ना सिखाए, कांग्रेस का इतिहास वोटबैंक की राजनीति के आसपास ही घूमता है। 

'भाजपा नहीं करती भड़काऊ बयान का समर्थन'
भारतीय जनता पार्टी के नेताओं द्वारा दिए गए भड़काऊ बयानों पर रविशंकर प्रसाद ने जवाब दिया कि भाजपा इसका खंडन करती है। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री ने  पहले ही कह दिया है कि हम ऐसी भाषाओं का समर्थन नहीं करते हैं। ये वक्त शांति का हाथ बढ़ाने का है, नफरत फैलाने का नहीं है। आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन के   बारे में रविशंकर प्रसाद ने कहा कहा कि उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है, आईबी अफसर की मौत के मामले में उन पर आरोप लगा है। कपिल मिश्रा और ताहिर हुसैन के  मामलों की तुलना नहीं की जा सकती है।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget