5,000 कर्मचारियों की छंटनी करेगी ओयो

नई दिल्ली
ग्लोबल लेवल पर करीब 5,000 कर्मचारियों की छंटनी करने जा रही है ओयो। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक सबसे ज्यादा लोगों की छंटनी चीन में होगी, जहां कोरोना वायरस के  प्रकोप के चलते बिजनेस धराशायी हो गया है। इस छंटनी के बाद ओयो में कर्मचारियों की संख्या घटकर 25,000 पर आ जाएगी। इस भारतीय स्टार्टअप में जापान की सॉफ्टबैंक ग्रुप   का भारी निवेश है। कंपनी अपना मुनाफा बढ़ाने के लिए चीन, अमेरिका और अपने लोकल मार्केट भारत में कर्मचारियों की संख्या घटाएगी। ओयो ने 2013 में अपनी शुरुआत के बाद तेजी से विस्तार किया है और करीब 10 अरब डॉलर के वैल्यूएशन पर पहुंच गई हैं। हालांकि वीवर्क मामले के बाद निवेशक पैसा खोने वाले बिजनेस को लेकर सतर्क हो गए हैं।   सॉफ्ट बैंक अपने निवेश वाली सभी कंपनियों को मुनाफे पर ध्यान देने के लिए जोर दे रही है। कंपनी के फाउंडर और चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर ऋतेश अग्रवाल ने बताया कि  पिछले चरण के दौरान हमने अपने प्लैटफॉर्म बहुत-सी प्रॉपर्टीज को जोड़ा और इस ब्रांड को लेकर लोगों के मन में जागरूकता का निर्माण किया। अग्रवाल ने बताया कि जनवरी तक  ग्लोबल लेवल पर कंपनी में करीब 30,000 कर्मचारी थे, जिसमें से 17 पर्सेंट की छंटनी होगी। इसके अलावा कंपनी मजबूत कॉरपोरेट गवर्नेंस के लिए होटल्स के साथ अपने रिश्तों को  सुधारने पर भी जोर दे रही है। अग्रवाल ने बताया कि ग्लोबल लेवल पर तेजी से फेरबदल जारी है। उन्होंने बताया कि हम रिस्ट्रक्चरिंग की प्रक्रिया में हैं। इस प्रक्रिया के पूरी होने के  बाद ग्लोबल लेवल पर ओयो में करीब 25,000 कर्मचारी होंगे। ओयो के ग्लोबल लेवल पर विस्तार के लिए चीन को कभी अहम मार्केट माना जाता था। हालांकि कोरोना वायरस के  चलते कंपनी को यहां भारी छंटनी करनी पड़ रही है। मामले से वाकिफ लोगों ने बताया कि चीन में कंपनी के 6,000 डायरेक्ट फुल-टाइम स्टॉफ हैं, जिसमें से वह करीब आधे  कर्मचारियों को निकालने का इरादा रखती है। एक सूत्र ने बताया कि इसके अलावा कॉल सेंटर्स और क्लाइंट होटल्स के लिए कंपनी ने थर्ड पार्टी के जरिए 4,000 और लोगों को हायर  किया हुआ है।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget