'बैंक क्रेडिट ग्रोथ जनवरी में घटकर 8.5 फीसदी पर रही'

RBI
नई दिल्ली
बैंक क्रेडिट ग्रोथ जनवरी 2020 में घटकर 8.5 फीसदी पर आ गई, जो एक साल पहले इसी दौरान 13.5 फीसदी थी। भारतीय रिजर्व बैंक के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई। लोन  लेने की ग्रोथ रेट में गिरावट की वजह मुय रूप से सर्विस सेक्टर बना। इस सेक्टर में लोन की ग्रोथ रेट में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। जनवरी 2020 में सर्विस सेक्टर के लोन की  ग्रोथ रेट 8.9 फीसदी रही, जो जनवरी 2019 में 23.9 फीसदी थी। वहीं गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों को बैंकों के लोन की ग्रोथ रेट घटकर 32.2 फीसदी पर आ गई, जो एक साल  पहले समान माह में 48.3 फीसदी रही थी। रिजर्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार जनवरी में पर्सनल लोन (पर्सनल लोन) लेने में 16.9 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई। पर्सनल लोन के  तहत होम लोन में 17.5 फीसदी बढ़ोतरी रही, जो एक साल पहले समान महीने में 18.4 फीसदी रही थी। इसी तरह एजूकेशन लोन लेने में 3.1 फीसदी की कमी दर्ज की गई है। इसी  तरह शिक्षा और उससे संबंधित गतिविधियों के लिए लोन लेने में 6.5 फीसदी की कमी दर्ज की गई है, जो एक साल पहले इसी दौरान 7.6 फीसदी थी। इंडस्ट्री सेक्टर के लोन लेने  की दर 5.2 फीसदी से घटकर 2.5 फीसदी रह गई। बैंकों के तिमाही आंकड़ों के अनुसार अक्टूबर-दिसंबर 2019 के दौरान बैंकों के लोन लेने की ग्रोथ रेट घटकर 7.4 फीसदी रही, जो  एक साल पहले समान तिमाही में 12.9 फीसदी रही थी। तिमाही के दौरान सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की लोन लेने की ग्रोथ रेट 3.7 फीसदी रही, जबकि निजी क्षेत्र के बैंकों का लोन  13.1 फीसदी बढ़ा। आंकड़ों के अनुसार समीक्षाधीन पखवाड़े में बैंकों का जमा 9.2 फीसदी बढ़कर 132.35 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो एक साल पहले की समान अवधि में  121.19 लाख करोड़ रुपये रहा था। रिवर्ज बैंक गर्वनर शक्तिकांत दास ने फरवरी में कहा था कि क्रेडिट ग्रोथ का कमजोर होना बैंकिंग इंडस्ट्री को काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है ।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget