कांग्रेस के सात सांसद सस्पेंड

नई दिल्ली
संसद में हंगामे और धक्का मुक्की से नाराज लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने कड़ा फैसला लिया है। उन्होंने लोकसभा से कांग्रेस के साथ सांसदों को सस्पेंड कर दिया है। बता दें कि  दोनों सदनों में विपक्ष के दिल्ली हिंसा पर हंगामे की वजह से सदन नहीं चल पाए। इस पर ओम बिरला नाराज थे। जिन लोगों को सस्पेंड किया गया है वे स्पीकर की कुर्सी के बेहद  करीब आकर नारेबाजी कर रहे थे और पोस्टर दिखा रहे थे।

किन सासंदों को किया गया सस्पेंड
कांग्रेस के जिन सांसदों को सस्पेंड किया गया है उसमें गौरव गोगोई, टीएन प्रथपन, डीन कुरीकोस, आर उन्नीथन, मनिकम टैगोर, बेनी बेहन और गुरजीत सिंह औजला का नाम  शामिल है। गुरुवार सुबह पीठासीन सभापति भर्तृहरि महताब ने ओम बिरला का जिक्र भी किया था। उन्होंने कहा था कि पिछले तीन दिनों से जिस प्रकार से सदन में कामकाज को   बाधित किया जा रहा है, उससे लोकसभा अध्यक्ष (ओम बिरला) दुखी हैं, पूरा देश दुखी है। महताब ने कहा था कि दिल्ली दंगे का मुद्दा है, कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न स्थिति का  मुद्दा है, इस पर चर्चा हो, लेकिन जिस प्रकार से सदन को बाधित किया जा रहा है, उससे किसी का फायदा नहीं होने वाला है। वहीं, संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि तीन  चौथाई सदस्य चाहते हैं कि सदन सुचारू रूप से चले और कुछ सदस्य कार्यवाही बाधित कर रहे हैं।

सरकार कर सकती है गौरव गोगोई की लोकसभा सदस्यता खत्म करने की मांग
कांग्रेस के सात सांसदों को गुरुवार को लोकसभा के शेष सत्र से निलंबित कर दिया गया। सूत्रों से जानकारी मिली है कि सरकार अब बचे हुए कार्यकाल के लिए गौरव गोगोई की लोकसभा सदस्यता खत्म करने की मांग कर सकती है। बता दें कांग्रेस के जिन सांसदों को निलंबित किया गया है उनमें गौरव गोगोई समेत टी एन प्रतापन, डीन कुरियाकोस, राजमोहन उन्नीथन, बैनी बहनान, मणिकम टेगोर और गुरजीत सिंह औजला शामिल हैं। लोकसभा अध्यक्ष ने गौरव गोगोई के पेपर स्नैचिंग मामले की जांच के लिए एक कमेटी का  गठन करने को मंजूरी दे दी है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget