दिल्ली मे सरकारी दफ्तरों मे नही लगेगी बायोमेट्रिक अटेंडंस

Biometric Attedance
नई दिल्ली
कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए दिल्ली सरकार ने जरूरी कदम उठाए हैं। अब दिल्ली सरकार के अधीन आने वाले सरकारी दफ्तरों में बायोमैट्रिक अटेंडेंस की जरूरत नहीं  रहेगी, ताकि इस बीमारी से बचाव किया जा सके। इस बीच जानकारी मिल रही है कि दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन गुरुवार को लोक नायक जयप्रकाश हॉस्पिटल का मुआयना  करने वाले हैं। इस दौरान वे कोरोना वायरस के मामलों से निपटने के लिए की गई जरूरी तैयारियों का जायजा लेंगे। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार भी इससे   निपटने के लिए तत्पर दिख रही है। गुरुवार को ही स्वास्थ्य मामलों की संसदीय समिति की बैठक संसद भवन में हुई। इसमें स्वास्थ्य मंत्रालय के आला अधिकारियों समिति के  सामने अपना प्रेजेंटेशन दिया। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या अब तक 30 पहुंच चुकी है। इससे पहले बुधवार को कोरोना  वायरस से पीड़ित एक मामला गुरुग्राम से सामने आया था। यहां पेटीएम कंपनी में काम करने एक कर्मचारी की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। पेटीएम कंपनी के प्रबंधन ने इसकी  जानकारी दी थी। कंपनी ने बताया कि उनके यहां काम करने वाले एक कर्मचारी का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव मिला है। ये कर्मचारी हाल ही में इटली से लौटा था। टेस्ट रिजल्ट आने के  बाद इस कर्मचारी को हॉस्पिटल में भर्ती करवा दिया गया है।

दहशत में लोग
दिल्ली-एनसीआर में कोरोना के कुछ मामले सामने आने के बाद से लोगों में दहशत है। बताया जा रहा है कि दिल्ली के ए्स और सफदरजंग अस्पताल के पास की दवा की दुकानों में   मास्क और सेनेटाइजर की किल्लत हो गई है। यहां के दुकानदारों का कहना है कि उनके पास मास्क और सेनेटाइजर उपलब्ध नहीं हैं। दुकानदारों का यह भी कहना है कि जिस  कीमत पर वो ग्राहकों को मास्क देते थे, उस कीमत पर अब दुकानदारों को मास्क मिल रहा है।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget