ओलंपिक क्वॉलीफिकेशन का समय बढ़ा : साइना

Saina Nehwal
नई दिल्ली
भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल और पारूपल्ली कश्यप का मानना है कि नोवेल कोरोना वायरस के कारण टोक्यो ओलंपिक के वालीफाइंग टूर्नामेंट रद्द होने के कारण विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) को क्वॉलीफिकेशन समय को बढ़ाना चाहिए। घातक कोरोना वायरस से जुड़ी चिंताओं के कारण अब तक चार ओलंपिक क्वॉलीफाइंग प्रतियोगिताएं रद्द  हो चुकी हैं जिसमें चीन मास्टर्स (25 फरवरी से एक मार्च), वियतनाम अंतर्राष्ट्रीय चैलेंज (24 से 29 मार्च), जर्मन  ओपन (तीन से आठ मार्च) और पोलिश ओपन (26 से 29 मार्च)  शामिल हैं। साइना ने बीडब्ल्यूएफ और अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) को टैग करते हुए ट्वीट किया कि अगर कोरोना वायरस के कारण टूर्नामेंट रद्द हो रहे हैं तो क्वॉलीफिकेशन समय बढ़ाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि यह उन खिलाड़ियों के लिए अनुचित होगा, जो ओलंपिक  2020 के लिए क्वॉलीफाई करने के करीब हैं। लंदन ओलंपिक  की कांस्य पदक विजेता साइना रेस टू टोक्यो सूची में अभी 22वें स्थान पर चल रही हैं और टोयो में जगह बनाने के लिए उन्हें कुछ अच्छे नतीजे हासिल करने होंगे। साइना के पति  और 2014 के राष्ट्रमंडल चैंपियन कश्यप तथा दुनिया के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत क्रमश: 24वें और 21वें स्थान पर हैं। इन खिलाड़ियों के पास अब प्रतिष्ठित आल  इंग्लैंड टूर्नामेंट (11 से 15 मार्च) के जरिए अंक जुटाने का मौका है। इस टूर्नामेंट के विजेता को 12000 रैंकिंग अंक मिलेंगे।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget