यूपी में बढ़ी निवेशकों की रुचि

लखनऊ
 उद्योग व निवेश पर योगी सरकार के फोकस नतीजे सामने आने लगे हैं। इंडिया इंवेस्टमेंट ग्रिड (आईआईजी) के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में परियोजनाएं लगाने में निवेशकों की रुचि में 18.6  प्रतिशत का इजाफा हुआ है। वहीं, एक तिमाही से दूसरी तिमाही में परियोजनाओं की देख-रेख में कस पर 51 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है। इससे प्रदेश के करीब 30 हजार युवाओं को रोजगार के मौके  हासिल होंगे। औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने बताया कि आईआईजी केंद्र की एक पहल है। यह देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 25 सेक्टरों में उपलब्ध निवेश के अवसरों  को एक प्लेटफॉर्म पर प्रदर्शित करती है। इसमें निवेशकों के पास निवेश के अवसरों को खोजने की सुविधा भी रहती है। आईआईजी में सबसे अधिक निवेश-योग्य परियोजनाओं के साथ यूपी की  13 प्रतिशत से अधिक की हिस्सेदारी है। इन परियोजनाओं को 32 से अधिक सरकारी और निजी प्रमोटर्स से ने प्रोत्साहित किया है। मंत्री ने बताया कि प्रदेश के 68 जिलों में निवेश परियोजनाएं  चल रही हैं। 
यूपी में निवेश के अवसरों को देखने वाले शीर्ष 5 देशों में अमेरिका, कनाडा, जापान, इंडोनेशिया और चीन शामिल हैं। सरकार निवेशकों की आसानी के लिए ईज ऑफ डूइंग बिजनेस सुधारों को  लागू करने के लिए ठोस कदम उठा रही है। इससे पहले डीआईपीपी की रैंकिंग में भी यूपी अचीवर स्टेट बना है और रैंकिंग बेहतर हुई है। निवेश मित्र के जरिए 1 लाख से अधिक स्वीकृतियां  ऑनलाइन जारी की गई हैं। 
औद्योगीकरण की इस गति को और तेज करने के लिए सरकार यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2020 के आयोजन की तैयारी कर रही है। इससे प्रदेश को वन ट्रिलियन  डॉलर अर्थव्यवस्था स्थापित करने के लक्ष्य को प्राप्त करने के कार्ययोजना आगे बढ़ाई जाएगी। जेवर में बन रहे इंटरनेशनल एयरपोर्ट को दुनिया के 100 रणनीतिक ग्लोबल इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट में शामिल किया गया है। एविएशन के क्षेत्र में इस सूची में केवल यूपी और यूगोस्लाविया शामिल हैं। इस सफलता की कहानी यूपी न्यूयार्क में 25 से 27 मार्च को होने वाले 13वें ग्लोबल इंफ्रास्ट्रक्चर लीडरशिप फोरम में  सुनाएगा। यूपी को इसके लिए निमंत्रण भेजा गया है। दुनिया की तमाम कंपनियां जेवर एयरपोर्ट में निवेश की इच्छुक हैं।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget