ट्रंप की तरह अभेद्य होगी नरेंद्र मोदी की सुरक्षा

नई दिल्ली
दुनियाभर में बढ़ते आतंकी खतरे के बीच प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविद की सुरक्षा हवा में भी अभेद्य होने जा रही है। 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा जमीन   के साथ अब हवा में भी अभेद्य होने जा रही है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविद और पीएम नरेंद्र मोदी के विमानों की सुरक्षा को और पुख्ता  करने के लिए भारत ने एक बड़ा करार किया  है। भारत ने अमेरिका से अडवांस्ड मिसाइल डिफेंस सिस्टम खरीदा है। इस सिस्टम के 'एयर इंडिया' वन में लगाए जाने के बाद यह विमान 'एयर फोर्स वन' की तरह ही 'उड़ते किले' में तब्दील हो जाएगा।

चलता-फिरता 'वाइट हाउस' है एयरफोर्स वन
पिछले महीने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के दो दिवसीय दौरे पर आए थे। इस दौरान उनके विमान 'एयरफोर्स वन' की खूबियों की जमकर चर्चा हुई थी। चलता-फिरता   'वाइट हाउस' एयरफोर्स वन हवा में अभेद्द किले की तरह से होता है। एयरफोर्स वन दो खास तरीके से बनाए गए बोइंग 747-200क्च सीरीज के विमानों में से एक है। यह विमान चंद  मिनटों के नोटिस पर उड़ने के लिए हमेशा तैयार रहता है। विमान में होने के बाद भी अमेरिकी राष्ट्रपति किसी से भी कनेक्ट रह सकते हैं और अमेरिका पर हमला होने की स्थिति  इस विमान को मोबाइल कमांड सेंटर की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।

ट्रंप के डिफेंस सिस्टम से लैस होगा मोदी का प्लेन
अमेरिकी राष्ट्रपति का प्लेन 'एयरफोर्स वन' दुनिया के सबसे आधुनिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम से लैस है। अब इसी मिसाइल डिफेंस सिस्टम को पीएम मोदी और राष्ट्रपति के लिए   खरीदे जा रहे नए विमानों में लगाया जाएगा। भारत ने देसी 'एयरफोर्स वन' के लिए अमेरिका के साथ 1,300 करोड़ रुपए की डील की है। इसके तहत दो सेल्फ प्रोटेक्शन सूट खरीदे  जा रहे हैं। इन्हें वीवीआईपी यात्रा के लिए विशेष रूप से बनाए जा रहे बोइंग- 777 विमानों में लगाया जाएगा। ये विमान अगले साल सेवा में शामिल कर लिए जाएंगे।

किसी मिसाइल हमले को कर देगा नाकाम
पीएम नरेंद्र मोदी का अत्याधुनिक बोइंग-777 विमान पूरी तरह से एकीकृत मिसाइल डिफेंस सिस्टम से लैस होगा। इसमें ऐसे खास सेंसर लगे होंगे जो मिसाइल हमले की तत्काल  सूचना दे देंगे। इसके बाद डिफेंसिंव इलेक्ट्रानिक वॉरफेयर सिस्टम ऐक्टिव हो जाएगा। इस डिफेंस सिस्टम में इंफ्रा रेड सिस्टम, डिजिटल रेडियो फ्रीक्वेंसी जैमर आदि लगे हुए हैं। यह  सुविधाएं कुछ उसी तरह से होंगी जैसे अमेरिकी राष्ट्रपति के प्लेन में लगी हुई हैं। हालांकि ट्रंप का विमान कई मामलों में एयर इंडिया वन से और ज्यादा उन्नत है।

26 साल बाद बदलेगा प्रधानमंत्री का विशेष विमान
26 साल से प्रधानमंत्री के विशेष विमान के तौर पर काम कर रहे एयर इंडिया वन की जगह लेने बोइंग-777 इस वर्ष जून महीने में आ भारत जाएगा। बोइंग ने दो 777-300 श्वक्र  विमान पिछले वर्ष जनवरी महीने में भी डिलिवर कर दी थी। दोनों विमानों में अत्याधुनिक सुरक्षा कवर देने के लिए वापस अमेरिका भेज दिया गया था। अब दोनों विमानों को  अमेरिका के डलास स्टेट स्थित फोर्ट वर्थ में अडवांस्ड सिक्यॉरिटी फीचर्स जोड़े जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि मिसाइल डिफेंस सिस्टम को जोड़ने का सौदा ट्रंप की यात्रा के दौरान हुआ था।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget