नागपाडा सीनियर इंस्पेक्टर को मुंबई बाग जाने पर रोक

Mumbai Bagh
मुंबई
नागपाड़ा इलाके में धरने पर बैठी महिलाओं और पुलिस के बीच गुरुवार देर रात विवाद हो गया था। जिसके बाद महिलाओं ने आरोप लगाया है कि धरना स्थल पर कुछ पुलिसवाले  पहुंचे और उन्होंने अस्थाई तंबू लगाने से रोक दिया। मामले में मुंबई पुलिस के अधिकारियों ने जांच के आदेश दिए हैं। इसके अलावा नागपाड़ा पुलिस थाने की सीनियर पीआई को वहां  चल रहे आंदोलन से दूर रखा गया है। पुलिस और उन महिलाओं के बीच बहस हुई और मामला बढ़ता गया। मामले की जांच जारी है। मुंबई बाग में हुए तनाव के बाद नागपाड़ा  पुलिस थाने की सीनियर इंस्पेटर शालिनी शर्मा को मोरलैंड में चल रहे आंदोलन से जांच जारी रहने तक दूर रहने का आदेश दिया है। पुलिस का कहना है कि कुछ महिलाएं शुक्रवार  की सुबह तारपोलिन लगाने की कोशिश कर रही थीं। जिसे पुलिस ने लगाने से रोक दिया और फिर पुलिस और वहां मौजूद महिलाओं के बीच झगड़ा शुरू हो गया। आंदोलनकर्ताओं  ने  आरोप लगाया कि पुलिस ने उन पर जरूरत से ज्यादा पुलिस बल का इस्तेमाल किया है। जिसके बाद उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं और मौजूदा सीनियर इंस्पेटर को वहां से  दूर रहने के लिए कहा गया है। दरअसल पुलिसकर्मियों ने बिना इजाजत चल रहे धरने का हवाला देते हुए तारपोलिन की छत बनाने की इजाजत देने से इंकार कर दिया।  पुलिसकर्मियों ने तारपोलिन छीनने की कोशिश की तो महिलाएं उनसे उलझ गई थीं। कुछ महिलाएं शुक्रवार को भायखला पुलिस स्टेशन पहुंची थीं और उन्होंने पुलिसकर्मियों पर  बदसलूकी और मारपीट का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज करने की मांग की थी। लेकिन महिलाओं के आरोप के बाद मुस्लिम समाज के सैकड़ों लोग नागपाड़ा जंशन पर इकट्ठा हो  गए और वे सीनियर इंस्पेटर शालिनी शर्मा के इस्तीफे की मांग कर रहे थे। पुलिस ने एक प्रेसनोट जारी कर कार्रवाई करने की जानकारी दी और यहां पर शांति निर्माण हुई। इसके  अलावा इससे जुड़े कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, जिसमें कुछ लोग महिलाओं को भड़काते हुए यह कहते सुने जा रहे हैं कि आरोप लगाओं कि पुरुष पुलिसकर्मियों  ने हमारे साथ मारपीट की। पुलिस का कहना है कि शिकायत और इससे जुड़े वीडियो की  जांच की जा रही है। बता दें कि दिल्ली के शाहीनबाग के तर्ज पर नागपाड़ा के मोरलैंड रोड  पर दर्जनों महिलाएं 26 जनवरी से धरने पर बैठी हुईं हैं। महिलाएं नागरिकता कानून का विरोध करते हुए उसे वापस लेने की मांग कर रही हैं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget