पश्चिम रेलवे ने ढोया 3.79 करोड़ लीटर से अधिक दूध

मुंबई
23 मार्च से लागू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बावजूद,राष्ट्र की सेवा में हमेशा अग्रणी रहने वाली पश्चिम रेलवे ने देश में खाद्यान्न, दूध, दवाई, किराने का सामान, कोयला आदि जैसे  अत्यावश्यक सामानों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए अपने पहियों को गतिमान रखा। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक आलोक कंसल ने लॉकडाउन के दौरान अत्यावश्यक सामग्रियों  की आपूर्ति जारी रखने में गहरी रुचि दिखाई तथा यह भी सुनिश्चित किया कि पार्सल विशेष ट्रेनों के परिचालन को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए। महाप्रबंधक के मार्गदर्शन के  परिणामस्वरूप पश्चिम रेलवे इस आपात समय के दौरान 3.79 करोड़ लीटर से अधिक दूध का परिवहन करने में सफल हो सका है। पश्चिम रेलवे के लिए यह गर्व की बात है कि  संपूर्ण भारतीय रेल पर यह ऐसी पहली जोनल रेलवे बन गई है, जिसे लॉकडाउन अवधि के दौरान सर्वाधिक मात्रा में दूध के परिवहन का गौरव प्राप्त हुआ है। पश्चिम रेलवे के  महाप्रबंधक आलोक कंसल ने इस शानदार उपलब्धि के लिए सभी संबंधित अधिकारियों एवं कर्मचारियों सहित पश्चिम रेलवे की पूरी टीम की सराहना करते हुए सभी को हार्दिक बधाई  दी है। पश्चिम रेलवे द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार देश में मार्च, 2020 में घोषित लॉकडाउन से लेकर अब तक 882 रेलवे मिल्क टैंकरों (आरएमटी)वाले कुल 51 रेकों का  पश्चिम रेलवे के अहमदाबाद मंडल के पालनपुर से हरियाणा में पलवल के निकट हिंद टर्मिनल तक परिवहन किया गया। पश्चिम रेलवे अपनी मिल्क स्पेशल ट्रेनों के परिवहन के  ज़रिए दूध और मिल्क प्रोडक्ट्स की आपूर्ति सुनिश्चित कर रही है। मार्च माह के दौरान 22 से 31 मार्च तक आरएमटी के 5 रेकों में 33.32 लाख लीटर दूध का लदान किया गया,  जबकि अप्रैल माह के दौरान आरएमटी के 15 रेकों में 1.09 करोड़ लीटर दूध का लदान किया गया। इसी प्रकार मई माह में आरएमटी के 17 रेकों में 1.28 करोड़ लीटर दूध का और  जून माह में 28 जून तक आरएमटी के 14 रेकों में 1.09 करोड़ लीटर का दूध का लदान किया गया। तदनुसार पश्चिम रेलवे द्वारा 37 हजार टन से अधिक लोड सहित और वैगनों  का शत-प्रतिशत उपयोग करते हुए कुल 51 मिल्क स्पेशल ट्रेनें चलाई गईं, जिनसे लगभग 6.45 करोड़ रुपए का राजस्व अर्जित हुआ।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget