नड्डा ने फिर कांग्रेस को घेरा, चीन से क्या है रिश्ता?

सोनिया गांधी से पूछे 10 सवाल

J P Nadda
नई दिल्ली
भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राजीव गांधी फाउंडेशन को लेकर लगातार तीसरे दिन कांग्रेस और सोनिया गांधी पर निशाना साधा। नड्डा ने फाउंडेशन की फंडिंग को लेकर सोनिया से 10 सवाल किए हैं। उन्होंने कहा कि मैं सोनिया जी को ये कहना चाहता हूं कि कोरोना या चीन की स्थिति की वजह से सवालों से बचने को कोशिश नहीं करें। 130 करोड़ देशवासी जानना चाहते हैं कि कांग्रेस ने सत्ता में रहते हुए क्या-क्या काम किया और किस तरह से आपने देश से विश्वासघात किया।
जेपी नड्डा के 10 सवाल
1. राजीव गांधी फाउंडेशन को 2005 से 2009 तक चीन से डोनेशन मिला । 2006 से 2009 तक टैक्स हैवन देश लक्जमबर्ग से पैसा मिला, जहां हवाला से हवाला होता है। यह किस बात की ओर इंगित करता है।
2. रीजनल कॉम्प्रीहेंसिव इकोनॉमिक पार्टनरशिप (आरईसीपी) का हिस्सा बनने की जरूरत क्या थी भारत का व्यापार घाटा चीन के साथ व्यापार के दौरान 1.1 अरब डॉलर से बढ़कर 36.2 अरब डॉलर क्यों हो गया इस गुट से भारत के किसानों, मझोले-छोटे उद्योगों के हित नहीं साधे जा सकते थे। मोदी इस समूह में शामिल होने के कभी पक्षधर नहीं थे।
2. कांग्रेस और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी का संबंध क्या है दोनों के बीच किन एमओयू पर साइन हुए और किन पर नहीं हुए। देश यह जानना चाहता है।
3. क्या राजीव गांधी फाउंडेशन का चीन के सेंट्रल मिलिट्री कमीशन फाउंडेशन के साथ दोस्ताना रिश्ता था, क्या इसके चलते देश की नीतियों को प्रभावित करने की कोशिश हो रही थी?
4. 2005-08 के दौरान प्रधानमंत्री राहत कोष का पैसा फाउंडेशन में डायवर्ट क्यों किया गया?
5.पीएम नेशनल रिलीफ फंड का ऑडिटर कौन है ठाकुर वैद्यनाथन एंड अय्यर कंपनी ऑडिटर थी। रामेश्वर ठाकुर इसके फाउंडर थे। वे राज्यसभा सांसद और 4 राज्यों के राज्यपाल रहे। कई दशकों तक उसके ऑडिटर रहे। ऐसे लोगों को ऑडिटर बनाकर सरकार क्या करना चाह रही थी?
6. जिस कीमती जमीन पर जवाहर भवन बना है, वह राजीव गांधी फाउंडेशन को बेमियादी लीज पर कैसे दे दी गई?
7. राजीव गांधी फाउंडेशन के खातों की कैग से ऑडिटिंग क्यों नहीं करवाई गई इस फाउंडेशन पर आरटीआई लागू क्यों नहीं किया गया?
9. सिर्फ राजीव गांधी फाउंडेशन को ही पैसा नहीं मिला बल्कि यहां घोटाला हुआ, लेकिन इसे डोनेशन माना गया। मैं जानना चाहता हूं कैसे राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट को यह पैसा डोनेट किया गया। इसे परिवार चलाता है।
10. मेरा कांग्रेस से सवाल है कि मेहुल चौकसी से राजीव गांधी फाउंडेशन में पैसा क्यों लिया गया मेहुल चौकसी को लोन देने में मदद क्यों की गई?
राजीव गांधी फाउंडेशन क्या है?
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के लक्ष्यों को आगे बढ़ाने के लिए 21 जून 1991 को सोनिया गांधी ने इस फाउंडेशन की शुरुआत की थी। ये फाउंडेशन एजुकेशन, साइंस एंड टेक्नोलॉजी के प्रमोशन, शोषित (अंडरप्रिवलेज्ड) और दिव्यांगों के एम्पावरमेंट के लिए काम करता है। डोनेशन और इन्वेस्टमेंट पर मिलने वाले रिटर्न से इसका काम चलता है। सोनिया गांधी इसकी चेयरपर्सन हैं। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के अलावा राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और पी. चिदंबरम ट्रस्टी हैं।
फाउंडेशन पर अभी विवाद क्यों?
भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुरुवार को कहा कि 2005-06 में राजीव गांधी फाउंडेशन को चीन से 3 लाख डॉलर (तब 90 लाख रुपए) मिले थे। फांउडेशन की एनुअल रिपोर्ट के आधार पर यह दावा किया गया। 2005-06 की एनुअल रिपोर्ट में फाउंडेशन को डोनेशन देने वालों की लिस्ट में चीन का भी नाम है।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget