मणिपुर में भाजपा का किला बरकरार

हिमंता शर्मा फिर बने पार्टी के हीरो

मणिपुर
कोरोना संकट के बीच मणिपुर में भारतीय जनता पार्टी सरकार के अस्तित्व पर जो संकट आ गया था जो अब टल गया है. इन सबके पीछे अहम भूमिका रही पूर्वोत्तर क्षेत्र में बीजेपी के सबसे बड़े संकटमोचक कहे जाने वाले असम के वित्त और स्वास्थ्य मंत्री हिमंता बिस्वा शर्मा की, जिनके कुशल प्रबंधन ने मणिपुर में सरकार गिरने से बचा लिया.
बीजेपी के नेतृत्व वाली मणिपुर सरकार में जारी राजनीतिक संकट को रोकने के लिए, नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक एलायंस के संयोजक हिमंता बिस्वा शर्मा ने नेशनल पीपुल्स पार्टी के 4 विधायकों के साथ दिल्ली की ओर रुख किया था, जिन्होंने हाल ही में एन बीरेन सिंह के नेतृत्व वाली मणिपुर सरकार से समर्थन वापस ले लिया और राज्य सरकार संकट में घिर गई थी. हिमंता बिस्वा शर्मा ने मेघालय के मुख्यमंत्री कनराड संगमा के साथ मंगलवार को इंफाल में चार एनपीपी विधायकों के साथ मुलाकात की और कुछ घंटों तक चर्चा की. बाद में, हिमंता-कोनराड संगमा और एनपीपी के चार विधायक दिल्ली के लिए रवाना हो गए. दिल्ली में राजनीतिक संकट को हल करने के लिए इन्होंने बुधवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की. हिमंता बिस्वा शर्मा ने मुलाकात के बाद ट्वीट कर जानकारी दी कि नेशनल पीपुल्स पार्टी का प्रतिनिधिमंडल आज गृह मंत्री अमित शाह से मिला और बीजेपी तथा नेशनल पीपुल्स पार्टी दोनों ही दल मिलकर राज्य के विकास के लिए मिलकर साथ काम करने को राजी हो गए हैं.

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget