स्ट्रीट लाइट में पढ़कर पास की 10वीं की परीक्षा

Asma Shaikh
मुंबई
मुंबई के स्लम एरिया के निकट फुटपाथ पर रहने वाली एक बालिका ने 10वीं परीक्षा पास कर ली। वह बालिका स्ट्रीट लाइट के नीचे बैठकर पढ़ाई करती थी। उसका नाम आस्मा शेख है। वह अभी 17 साल की है। आस्मा ने बताया कि मुझे महाराष्ट्र राज्य बोर्ड द्वारा आयोजित इस वर्ष के माध्यमिक विद्यालय प्रमाणपत्र (एसएससी) यानी दसवीं की परीक्षा में 40 प्रतिशत मार्क्स मिले हैं। आस्मा ने कहा कि हमारे पास एक पक्का घर भी नहीं है। फिर भी मैं पढ़ाई के लिए बहुत मेहनत कर रही हूं। मैं यहां रोड पर रहकर रात के समय स्ट्रीट लाइट में पढ़ती थी, क्योंकि उस समय कम भीड़ होती थी। मगर बारिश के मौसम में हमारे लिए बहुत मुश्किल हो जाती है। बूंदें बरसती थीं और पानी जमा हो जाता था। ऐसे में मेरे पापा बचाव के लिए प्लास्टिक शेड बनाते थे। वैसे जितने मुझे मार्क्स अभी मिले हैं, मैं उससे ज्यादा पाने की उम्मीद कर रही थी। खैर, इन मार्क्स से भी खुश हूं। आस्मा ने कहा कि मैं आर्ट्स में आगे की पढ़ाई करना चाहती हूं। मुझे किसी भी कॉलेज में दाखिला लेने में खुशी होगी। कई बहुत से लोग मेरी मदद के लिए भी आगे आए हैं। वो मुझे कड़ी मेहनत करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। इससे पापा भी खुश हैं। वहीं, आस्मा के पिता सलीम शेख ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि मेरी बेटी ने 40 प्रतिशत मार्क्स पाए हैं। मैं तो केवल फर्स्ट क्लास तक ही पढ़ा। अब हमारी तरह यहां फुटपाथ पर रहने वाले लोग भी शायद ही पढ़ते होंगे। हमारे पास कोई पक्का काम तो है नहीं, लिहाजा मुंबई की सड़कों पर जूस, मक्का इत्यादि बेचकर परिवार पालते हैं।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget