कटान के मुहाने पर आधा दर्जन घर

सगड़ी (आजमगढ़)
घाघरा नदी दूसरी बार खतरा बिदु के ऊपर बहने के बाद जलस्तर में कमी होने से बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों के साथ ही प्रशासन भी कुछ राहत की सांस ली। वहीं घाघरा का पानी कम होने से तटवर्ती गांव में आबादी के करीब आधा दर्ज घर कटान के मुहाने पर खड़े हैं। इस पर अब भी कटने का खतरा बरकरार है।
इसे लेकर देवारावासी दहशत में है। उधर पशुओं के चारे की समस्या होने से पशुपालकों भी परेशान हैं। रविवार को घाघरा नदी के जलस्तर में 24 घंटे में बदरहुआ गेज पर 30 सेंटीमीटर तो डिघिया गेज पर 50 सेंटीमीटर की कमी दर्ज की गई। जलस्तर कम होने के बाद भी नदी के पानी से नौ गांव घिरे हुए हैं। जबकि प्रशासन द्वारा 20 नावों की व्यवस्था की गई है। इसके बाद भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों को आवागमन में असुविधा हो रही है। नाव द्वारा ही लोग आवागमन कर रहे हैं। किसानों के पशुओं को चारे की समस्या उत्पन्न हो गई है। किसानों की फसल व चारे डूब चुके हैं जिससे पशुओं को खाने की समस्या हो रही है।
लगभग दो दर्जन विद्यालय घाघरा नदी के पानी से घिर गए हैं और विद्यालयों में पानी घुसने से बंद कर दिया गया है। इसमें तैनात अध्यापक विद्यालय पर नहीं पहुंच पा रहे हैं। अध्यापकों को खंड शिक्षा अधिकारी राजेश कुमार ने बंधे पर बाढ़ चौकियों से संबद्ध कर बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सहयोग के लिए लगा दिया गया है।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget