वर्क फ्रॉम होम की वजह से बढ़ा बिजली बिल: राउत

एक साथ बिल भरने पर मिलेगी दो प्रतिशत छूट

मुंबई
राज्य में बीते तीन महीने से लगातार जारी लॉकडाउन के दौरान अप्रैल और मई में लोगों के घरों में रहकर काम करने के कारण बिजली के इस्तेमाल में वृद्घि हुई है, इसलिए जून के महीने में आए बिजली  बिल में बढ़ोत्तरी दिखाई पड़ रही है। मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए राज्य के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने यह बात कही। राउत ने कहा कि मुंबई सहित पूरे राज्य में बिजली बिल को लेकर जनता  में आक्रोश का माहौल है, जबकि सच्चाई यह है कि लॉकडाउन के दौरान घरों में रहने के कारण लोगों ने बिजली का अधिक इस्तेमाल किया है, इसलिए लोगों के बिल अधिक बिल आए हैं। राउत ने कहा कि  तीन महीने के आए बिजली बिल का एक साथ भुगतान करने पर दो फीसदी की छूट दी जाएगी। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि ग्राहकों को तीन महीने में अपने बकाया बिजली बिलों का भुगतान करने की अनुमति दी  जा रही है। बिजली के बिल को लेकर लोगों के मन में जो भ्रम था, उसे बिजली नियामक आयोग को अवगत कराया गया है। एमईआरसी ने घर-घर जाकर रीडिंग नहीं ली। दिसंबर, जनवरी, फरवरी में औसत रीडिंग की तुलना में, अप्रैल, मई में कम बिल वसूला जाता है। लॉकडाउन के दौरान अप्रैल और मई के दौरान घर से काम करने से बिजली की खपत में वृद्धि हुई है, इसलिए, जून के महीने के लिए बिजली दरों  में वृद्धि हुई है। मुख्य अभियंता, अधीक्षण अभियंता के क्षेत्रीय कार्यालयों में सहायता केंद्र बनाए गए हैं। जिसके तहत उपभोक्ताओं को समझाने का काम शुरू है।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget