13 लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने पर बीसीसीआई चिंतित

नई दिल्ली
इंडियन प्रीमियर लीग के 13वे एडिशन को यूएई में कराया जाना है। भारत में कोरोना महामारी की गंभीरता को देखते हुए इसे भारत के बाहर कराए जाने का फैसला लिया गया था। बीसीसीआई की मुश्किलें शुक्रवार को तब बढ़ गई जब फ्रेंचाइजी टीम चेन्नई सुपर किंग्स के 12 सदस्य एक साथ कोरोनो संक्रमित पाए गए। शनिवार को टीम एक- एक और खिलाड़ी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। चेन्नई की टीम के दो खिलाड़ी समेत कुल 13 सदस्यों के कोरोना संक्रमित होने से बाद बीसीसीआई ने इसपर आधिकारिक बयान जारी किया है। बोर्ड ने इस संबंध में एक बयान जारी करते हुए बताया कि यूएई आए सभी खिलाड़ियों के लिए कोरोना संक्रमण का टेस्ट करना अनिवार्य है। 20 से 28 अगस्त के बीच कुल 1988 कोरोना टेस्ट किए गए थे जिसमें खिलाड़ी के साथ टीम स्पोर्ट स्टाफ भी शामिल थे। 13 लोगों को पॉजिटिव पाया गया है। बीसीसीआई की तरफ से कहा गया, यूएई में आने वाले सभी लोगों को नियम के मुतबिक टेस्ट और क्वारंटाइन से गुजरना अनिवार्य है। वो सभी ग्रुप जो यूएई पहुंचे हैं उनके कुल 1988 आरटी-पीसीआर कोविड टेस्ट कराए गए थे जिन्हें 20 से 28 अगस्त के बीच लिया गया था। इन ग्रुप में खिलाड़ी स्पोर्ट स्टाफ, टीम मैनेजमेंट, बीसीसीआई स्टाफ, आईपीएल ऑपरेशनल टीम, होटल और ग्राउंट स्टाफ मौजूद थे। इनमें से 13 लोगों को पॉजिटिव पाया गया है जिनमें 2 खिलाड़ी भी शामिल हैं। जो भी इससे प्रभावित लोग हैं साथ ही उनके संपर्क में आने वाले करीबी सभी को आइसोलेटेड कर दिया गया है।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget