विसर्जन के लिए बनेंगे 167 कृत्रिम तालाब

मुंबई
कोरोना महामारी के बीच मनपा प्रशासन ने गणेशोत्सव के दौरान मुंबई भर में गणेश मूर्तियों का विसर्जन करने के लिए 167 स्थानों पर कृत्रिम तालाब बनाकर लोगों को विसर्जन की सुविधा उपलब्ध कराएगी। इसी तरह मनपा प्रशासन ने गणेश मूर्तियों को समुद्र में विसर्जन की छूट दी है। मनपा प्रशासन ने बुधवार को जानकारी दी कि समुद्र में विसर्जन की छूट रहेगी। इससे समुद्र में मूर्तियों के विसर्जन को लेकर भ्रम दूर हो गया है।
मनपा आयुक्त नरेंद्र बर्डे ने कहा कि मनपा पूरे शहर में 167 स्थानों पर कृत्रिम तालाबों की सुविधा भी उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के दिशा-निर्देश के अनुसार पहले ही गणेशोत्सव को लेकर गाइड लाइन जारी की जा चुकी है। विसर्जन के दौरान ज्यादा भीड़ एक जगह न इकठ्ठी हो, इसके लिए ज्यादा से ज्यादा
 कृत्रिम तालाबों के निर्माण पर जोर दिया जा रहा है। मनपा जनसंपर्क विभाग के अनुसार किसी को भी समुद्र में मूर्ति विसर्जन करने की छूट है। समुद्र किनारे से दो किलोलीटर के दायरे में रहने वाले गणेश भक्तों के समुद्र में मूर्ति विसर्जन करने पर कोई आपत्ति नहीं है, जो श्रद्धालु समुद्री किनारे से दूर रहते हैं, वे संभव हो तो घर में ही या कृत्रिम तालाबों में मूर्ति विसर्जन को प्राथमिकता दें। इस तरह अप्रत्यक्ष रूप से मनपा ने समुद्री किनारे से दो किलोलीटर दूर रहने वाले लोगों से आह्वान किया है कि वे गणपति का विसर्जन पास में ही करें, समुद्र में विसर्जन के लिए मूर्ति लाने से बचें। बता दें कि मनपा ने घर में विराजे गणपति के विसर्जन के लिए खुद भी कमर कसी है। मनपा ने घर-घर जाकर गणेशमूर्ति लाने की भी योजना बनाई है। इसके लिए सोसायटी में रहनेवाले लोग अपने वार्ड में मनपा को सूचित कर दें, मनपा की गाड़ी सोसायटी के गेट पर आकर आपकी मूर्ति को ले जाकर स्वयं विसर्जन कर देगी। इससे लोगों को समुद्र किनारे या कृत्रिम तालाब में भी जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget