मंदिर हिंदुओं का हक था, उन्हें मिला: वसीम रिजवी

Wasim Rizvi
अयोध्या
 शिया सेंट्रल वफ्फ  बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कारसेवक पुरम में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने कहा कि अयोध्या में भगवान राम का जन्मस्थान है। मंदिर हिंदुओं का हक था, जो उन्हें मिल गया। इसके लिए उन्होंने अयोध्या के संतों के साथ मिलकर अपने स्टैंड को क्लियर रखा। एक प्रश्न के जवाब पर उन्होंने कहा कि ओवैसी हिंदुस्तान के अबू बकर बगदादी हैं, इससे ज्यादा उन्हें हम और कुछ नहीं मानते हैं। रिजवी ने कहा, 'हमारी कोशिश थी कि अदालती फैसले से नहीं, आपसी सुलह समझौते से हल निकल जाए। जिससे कि पीढ़ियों तक लोगों के जेहन में आपसी समझौते की बात घर कर जाये और जो तास्सुब हिंदू मुसलमान का बढ़ गया था, वह खत्म हो। लेकिन अफसोस हुआ समझौते से बात नहीं बनी। उन्होंने अदालती फैसले की सराहना करते हुए कहा कि जो फैसला आया वह जायज है। जिसका हक था, उसे मिल गया।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget