सीएसएमटी स्टेशन का होगा सौंदर्यीकरण

CST Station
मुंबई
छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (सीएसएमटी) का 1642 करोड़ रुपए की लागत से सौंदर्यीकरण किया जाएगा। इस स्टेशन को यूनेस्को ने विश्व धरोहर स्थल की सूची में शामिल किया है। अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि परियोजना के तहत परिसर से कुछ रेलवे कार्यालयों को भायखला और वाडी बंदर यार्ड परिसर में स्थानांतरित किया जाना है, पैदल चलने वालों के लिए ज्यादा स्थान बनाया जाएगा और स्टेशन पर नियंत्रण कक्ष भी बनाया जाएगा। विक्टोरियाई गोथिक शैली में बने 130 वर्ष पुराने भवन में मध्य रेलवे का मुख्यालय भी है और यहां उपनगरीय एवं लंबी दूरी की रेलगाड़ियों के लिए प्लेटफॉर्म भी हैं। भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम (आईआरएसडीसी) ने सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) मॉडल के तहत स्टेशन के पुनर्विकास के लिए 20 अगस्त को निविदा आमंत्रित की। आईआरएसडीसी के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी संजीव कुमार लोहिया ने सोमवार को संवाददाताओं से ऑनलाइन वार्ता में कहा कि छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (सीएसएमटी) का पुनर्विकास केवल स्टेशन के आवरण में सुधार तक सीमित नहीं होगा। लोहिया ने कहा कि चूंकि यह विरासत स्थल है, इसलिए पहला महत्वपूर्ण तत्व विरासत को बरकरार रखना है। हम स्थल को 1950 के स्तर तक बहाल रखेंगे। आईआरएसडीसी के मुताबिक परियोजना की लागत 1642 करोड़ रुपए की है जिसमें निर्माण लागत 1231 करोड़ रुपए और वित्तीय लागत 328 करोड़ रुपए है।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget