कोसी, बागमती थमी बूढ़ी गंडक, गंगा उग्र

पटना 
मुंगेर में गंगा का जलस्तर दूसरे दिन भी 11 सेंटीमीटर गिरावट दर्ज की गयी। लेकिन बाढ़ की आशंका अभी टली नहीं है। क्योंकि ऊपरी भाग इलाहाबाद एवं पटना में गंगा के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी जारी है। जिसके कारण आज से जलस्तर में बढ़ोतरी की संभावना व्यक्त की जा रही है। 

तीन जिलों में अलर्ट जारी 
मौसम विभाग ने तीन जिलों में अलर्ट जारी किया है। इनमें नालंदा, जहानाबाद और अरवल शामिल है। विभाग की ओर से जारी चेतावनी के अनुसार अगले तीन घंटों में इन जिलों में वर्षा और वज्रपात की आशंका है। 
लोगों को नदी में जाने और बादल छाने पर बिना कारण घर से नहीं निकलने की सलाह दी गयी है। जिले में बाढ़ का कहर जारी है। हालांकि कोसी एवं बागमती के जलस्तर में कमी के साथ बाढ़ प्रभवित क्षेत्र में पानी घटना आरंभ हुआ है, परंतु सभी नदियां अब भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। दुसरी ओर बूढ़ी गंडक के साथ गंगा के जलस्तर में वृद्धि जारी है। जिससे गंगा व बुढ़ी गंडक क्षेत्र में बाढ़ की तबाही से लोग परेशान है। गंगा के पानी से गोगरी व परबत्ता प्रखंड के विभिन्न पंचायत के साथ नगर पंचायत गोगरी जमालपुर के दो वार्ड भी प्रभावित हुए हैं। महानंदा नदी के जलस्तर में लगातार कमी से सभी आक्राम्य स्थलों पर नदी का जलस्तर खतरे के निशान से नीचे है। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget