आत्मनिर्भर भारत का संकल्प देश को सक्षम बनाना :मोदी

Modi
नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेे 'आत्मनिर्भर भारत डिफेंस इंडस्ट्री आउटरीच वेबिनार' को संबोधित किया। उन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की तारीफ करते हुए कहा कि वे पूरी लगन से इस दिशा में जुटे हुए हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमारा उद्देश्य भारत में रक्षा मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ाना है। कई वर्षों तक भारत सबसे बड़े रक्षा आयातकों में से एक रहा है। जब भारत को आजादी मिली, तो रक्षा मैन्युफैक्चरिंग और इसकेे पारिस्थितिकी तंत्र में 100 वर्षों से अधिक की क्षमता थी। दुर्भाग्य से इस विषय पर अपेक्षित ध्यान नहीं दिया जा सका। स्वत: मार्ग के माध्यम से रक्षा विनिर्माण में 74 फीसद तक एफडीआई की अनुमति देने का फैसला लिया गया है।
पीएम मोदी ने कहा कि हमारा प्रयास इस सेक्टर से जुड़ी सभी बेड़ियां तोड़ने का है। हमारा प्रयास है कि भारत में नई टेक्नोलॉजी बने, यही पर उसका विकास हो और प्राइवेट सेक्टर का विस्तार हो। इसके लिए लाइसेंसिंग प्रक्रिया में सुधार, लेवल प्लेइंग फील्ड की तैयारी, ऑफसेट और इम्पोर्ट के प्रावधानों में सुधार जैसे कदम उठाए गए हैं। रक्षा उत्पादन में आत्मनिर्भरता को लेकर हमारा कमिटमेंट केवल कागजों तक सीमित नहीं है। इसके क्रियान्वयन के लिए एक के बाद एक, ठोस कदम उठाए गए हैं। सीडीएस के गठन के बाद तीनों सेनाओं में डिफेंस प्रोक्योरमेंट की व्यवस्था बेहतर हुई है।
आने वाले समय में घरेलू इंडस्ट्री के लिए ऑर्डर का साइज भी बढ़ने वाला है। कुछ साल पहले तक, इस प्रकार के विषयों पर सोचा भी नहीं जाता था।
रिफॉर्म्स का ये सिलसिला थमने वाला नहीं है। हम आगे बढ़ते ही जाने वाले हैं। इसलिए न थमना है और न थकना है। न मुझे थकना है, न आपको थकना है। विश्व में शांति के लिए एक सक्षम भारत का निर्माण ही 'आत्मनिर्भर भारत' का लक्ष्य है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हम आत्म-निर्भर बनकर दुनिया के लिए कुछ अच्छा करना चाहते हैं। इस दिशा में कुछ कड़े नीतिगत सुधार किए गए हैं जैसे 101 रक्षा सामानों के आयात पर बैन। हमने सालाना बजट का एक बड़ा हिस्सा केवल घरेलू इंडस्ट्री से खरीद के लिए रखा है। इस साल यह 52,000 करोड़ रुपये होगा। हम सिर्फ मेक इन इंडिया नहीं, मेक फॉर वर्ल्ड का गोल हासिल करना चाहते हैं। यह बात उन्होंने आत्म-निर्भर भारत पर आयोजित वेबिनार में कही। इस सेमिनार में सीडीएस जनरल बिपिन रावत और अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget