एक जनवरी से खोले जाएं स्कूल: पाटिल

मुंबई
राज्य में शिक्षा वर्ष को बदलने और स्कूलों को एक जनवरी से शुरू करने की मांग भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने की है। पाटिल ने कहा कि शिक्षा मंत्री और मुख्यमंत्री के बीच समन्यव नहीं है। इसका उदाहरण तब देखने को मिला, जब मुख्यमंत्री ने ऑनलाइन स्कूल शुरू करने की घोषणा की और वास्तविक स्कूल जल्द ही शुरू करने की बात कही थी, लेकिन मुख्यमंत्री की इस बात पर राज्य की शिक्षा मंत्री ने असहमति जताई और सिर्फ स्कूलों को ऑनलाइन ही शुरू करने का आदेश दिया। पाटिल ने कहा कि सरकार के बार-बार निर्णय बदलने पर उसकी साख पर प्रश्नचिन्ह खड़ा होता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को तय करना चाहिए कि स्कूल कब शुरू होंगे। तीन दलों की सरकार को अभी भी मुद्दे की गंभीरता का एहसास नहीं है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में ऑनलाइन शिक्षा कितनी उपयोगी है, यह सोचने का विषय है। ऐसे समय में जब शहर के लोग नेटवर्क की समस्याओं का सामना कर रहे हैं, जिसे देखते हुए सरकार को ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों को लेकर अलग से विचार करने की जरूरत है। ऑनलाइन शिक्षण एक अप्रभावी माध्यम है और शिक्षण प्रक्रिया में पूरी तरह से असफल माध्यम है, इसलिए स्कूलों में वास्तविक शिक्षण का कोई विकल्प नहीं है। मौजूदा स्थिति को देखते हुए लगता है कि अक्टूबर-नवंबर तक स्थिति साफ हो जाएगी। इसलिए इस शैक्षणिक वर्ष को जनवरी 2021 से दिसंबर 2021 के रूप में घोषित किया जाना चाहिए और स्कूलों को 1 जनवरी 2021 से शुरू किया जाना चाहिए।
Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget