बिहार के जिलों में जल प्रलय जारी

पटना
 बाढ़ ने राज्य के 20 और पंचायतों को प्रभावित कर दिया है। इस तरह अब 16 जिलों के 126 प्रखंडों की 1260 पंचायतों की 75 लाख आबादी बाढ़ से प्रभावित हो चुकी है। आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्रडु ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए युद्ध स्तर पर राहत एवं बचाव कार्य चलाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि छह लाख 69 हजार बाढ़ पीड़ित परिवारों के खाते में छह-छह हजार की राशि भेज दी गई है। यह राशि 401 करोड़ है। शेष पीड़ितों के खाते में सहायता राशि भेजने की कार्रवाई चल रही है। शीघ्र ही सभी के खाते में राशि भेज दी जाएगी। उन्होंने कहा कि बाढ़ प्रभावितों के लिए राज्य में 1204 सामुदायिक किचेन चलाए जा रह हैं, जहां पर अभी प्रतिदिन नौ लाख 30 हजार लोगों को भोजन कराया जा रहा है। सात राहत केन्द्र भी चलाए जा रहे हैं, जहां पर 12500 लोग रह रहे हैं। उधर उत्तर बिहार में मंगलवार शाम से कई इलाकों में शुरू तेज बारिश ने फिर सबकी बेचैनी बढ़ा दी। नेपाल के तराई इलाकों और चंपारण के कुछ हिस्सों में तेज बारिश होती रही। अगले तीन दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट है। ऐसे में गंडक, बूढ़ी गंडक और बागमती जैसी नदियां फिर से बाढ़ क्षेत्र को खतरे में डाल सकती हैं। इस आशंका से बाढ़ पीड़ित डरे हुए हैं। वहीं जल संसाधन विभाग और आपदा प्रबंधन की टीमों को अलर्ट मोड में रखा गया है।

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget